Home /News /nation /

कैसे होती है CDS की नियुक्ति? देश को क्यों पड़ी इस पद की जरूरत

कैसे होती है CDS की नियुक्ति? देश को क्यों पड़ी इस पद की जरूरत

सीडीएस बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर हादसे में निधन हो गया है.

सीडीएस बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर हादसे में निधन हो गया है.

CDS Appointment process: 2019 के स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीडीएस पद की घोषणा की थी. पीएम मोदी ने तब कहा था कि सीडीएस सेना के तीनों अंगों थलसेना, वायुसेना और नौसेना के अध्यक्षों से वरीयता क्रम में ऊपर होगा. इसके बाद जनवरी 2020 में थलसेना अध्यक्ष पद से रिटायर होते ही बिपिन रावत को पहला सीडीएस बनाया गया था. इस पद को बनाने का प्रस्‍ताव 1999 में करगिल युद्ध के समय आया था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 में स्‍वतंत्रता दिवस (2019 Independence Day) पर लालकिले की प्राचीर से ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ (CDS) का पद बनाने की घोषणा की थी. पीएम मोदी ने तब कहा था कि सीडीएस सेना के तीनों अंगों थलसेना, वायुसेना और नौसेना के अध्यक्षों से वरीयता क्रम में ऊपर होगा.  इसके बाद जनवरी 2020 में थलसेना अध्यक्ष पद से रिटायर होते ही बिपिन रावत (Bipin Rawat) को पहला सीडीएस बनाया गया था. इस पद को बनाने का प्रस्‍ताव 1999 में करगिल युद्ध के समय आया था.

    सेना के तीन अंगों के प्रमुखों में सबसे वरिष्ठ व्यक्ति सीडीएस होता है. उसकी बुनियादी भूमिका सेना, नौसेना, वायुसेना के बीच कामकाजी समन्वय बढ़ाने की दिशा में काम करने और जरूरत के मुताबिक राष्ट्रीय सुरक्षा को देखने की होती है. सीडीएस प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री के लिए महत्वपूर्ण रक्षा व सामरिक मुद्दों पर सैन्य सलाहकार की भूमिका भी निभाता है.

    कैसे होती है नियुक्ति
    सीडीएस एक चार स्टार सैन्य अधिकारी होता है जो भारतीय सेनाओं के अधिकारियों में से चुना जाता है. तीनों सेनाओं के चीफ में ‘फर्स्ट अमंग द इक्वल’ होने के बावजूद रक्षा मंत्री का सिंगल प्वाइंट एडवाइजर होता है. सीडीएस की मदद वाइस चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ करते हैं. सीडीएस रक्षा मंत्रालय के अधीन डिपार्टमेंट ऑफ मिलिट्री अफेयर्स का हेड होता है और उसकी सेक्रेटरी भी होता है. इसके अलावा वो चीफ ऑफ द स्टाफ कमेटी का स्थाई अध्यक्ष होता है.

    ये भी पढ़ें: CDS जनरल बिपिन रावत का सैन्य सफर रहा गौरवशाली, मिले ढेरों अवॉर्ड, सम्मान और उपलब्धियां

    कितना अहम होता है पद
    चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद हाईब्रिड वारफेयर की दुनिया में अहम माना जाता है. इस पद की वजह से सेनाओं में आपसी सामंजस्य बिठाने में मदद मिलती है. देश की तीनों सेनाओं की संयुक्त युद्ध रणनीति में भी इसका बड़ा योगदान होता है. बिपिन रावत की नियुक्ति के पहले तक भारत दुनिया के सबसे बडे़ लोकतांत्रिक देशों में इकलौता था जहां पर सीडीएस की नियुक्ति नहीं हुई थी.

    देश को क्यों पड़ी सीडीएस की जरूरत
    देश की तीनों सेनाओं के बीच सामन्जस्य समेत सैन्य सुधारों को ठीक तरीके से लागू करने के लिए सीडीएस पद की जरूरत को महसूस किया जा रहा था. बिपिन रावत के सीडीएस बनने के बाद देश में सैन्य सुधारों की तेज हुई रफ्तार इस बात की गवाही देती है.

    Tags: Cds bipin rawat death, Narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर