Home /News /nation /

हेलिकॉप्‍टर दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले पायलट ने नहीं की थी कोई इमरजेंसी कॉल: सूत्र

हेलिकॉप्‍टर दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले पायलट ने नहीं की थी कोई इमरजेंसी कॉल: सूत्र

तमिलनाडु में बुधवार को हुआ था हेलिकॉप्‍टर क्रैश. (File pic)

तमिलनाडु में बुधवार को हुआ था हेलिकॉप्‍टर क्रैश. (File pic)

CDS General Bipin Rawat Helicopter Crash: विशेष सूत्रों का कहना है कि विमान हादसा होने से पहले पायलट की ओर से कोई संकट कॉल नहीं की गई थी. सूत्रों के मुताबिक पायलट ने सुलूर एटीसी को रेडियो संदेश दिया था और बताया था कि उन्होंने वेलिंगटन हेलीपैड पर उतरने के लिए उतरना शुरू कर दिया है. यह लैंडिंग से पहले 7-8 मिनट का था.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत (CDS General Bipin Rawat) का हेलिकॉप्‍टर तमिलनाडु के कुन्‍नूर (Tamil Nadu Helicopter Crash) में खराब मौसम की ही वजह से दुर्घटनाग्रस्‍त (Helicopter Crash) होने की आंशका जताई गई है. विशेष सूत्रों का कहना है कि हादसा होने से पहले पायलट की ओर से कोई संकट कॉल नहीं की गई थी. सूत्रों के मुताबिक पायलट ने सुलूर एटीसी को रेडियो संदेश दिया था और बताया था कि उन्होंने वेलिंगटन हेलीपैड पर उतरने के लिए उतरना शुरू कर दिया है. यह लैंडिंग से पहले 7-8 मिनट का था.

तमिलनाडु के कुन्‍नूर में बुधवार को हुए हेलिकॉप्‍टर हादसे में चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्‍नी मधुलिका रावत और 11 अन्‍य कर्मियों का निधन हो गया था. गुरुवार को सभी के पार्थिव शरीर दिल्‍ली लाए गए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शीर्ष सैन्‍य अफसरों ने पालम हवाई अड्डे पर पहुंचकर सभी को श्रद्धांजलि दी. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, थल सेना प्रमुख एमएम नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार, एयर चीफ मार्शल एवीआर चौधरी, रक्षा सचिव अजय कुमार उन लोगों में शामिल थे, जिन्होंने यहां दिवंगतों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

पीएम मोदी ने इसके बाद ट्वीट किया था, ‘जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बलों के अन्य कर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की. भारत उनके बहुमूल्य योगदान को कभी नहीं भूलेगा.’ इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी दिवंगतों के परिजनों के पास गए और उनसे कुछ मिनट तक बात की थी. पार्थिव शरीरों को भारतीय वायुसेना के सी-130 जे विमान से सुलूर एयरबेस से दिल्ली लाया गया था. यह विमान शाम करीब 7:35 बजे पालम तकनीकी हवाई अड्डे पर उतरा था.

जनरल रावत और उनकी पत्नी के पार्थिव शरीरों को शुक्रवार पूर्वाह्न 11 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक आम लोगों के अंतिम दर्शन के लिए उनके 3 कामराज मार्ग स्थित आवास पर रखा जाएगा. दोपहर 12:30 बजे से दोपहर 1:30 बजे के बीच का समय सैन्य कर्मियों के लिए बिपिन रावत और उनकी पत्नी को श्रद्धांजलि देने के लिए होगा. जनरल रावत की अंतिम यात्रा उनके आवास से बरार स्क्वायर श्मशान घाट तक दोपहर करीब 2 बजे शुरू होगी. अंतिम संस्कार शाम 4 बजे निर्धारित है.

Tags: Bipin Rawat, CDS General Bipin Rawat

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर