SSR Case: रिया चक्रवर्ती की याचिका में पक्षकार बनने के लिए केन्द्र ने SC में दी अर्जी

SSR Case: रिया चक्रवर्ती की याचिका में पक्षकार बनने के लिए केन्द्र ने SC में दी अर्जी
CBI ने एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों के खिलाफ गुरुवार को केस दर्ज किया.

केन्द्र ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मौत के मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवती (Riya Chakravati) की याचिका में पक्षकार बनने के लिये उच्चतम न्यायालय (Supreme court) में शुक्रवार को एक आवेदन दाखिल किया क्योंकि पटना में दर्ज कराई गई प्राथमिकी की जांच का मामला अब केन्द्रीय जांच ब्यूरो को सौंप दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 7, 2020, 7:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केन्द्र ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मौत के मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवती (Riya Chakravati) की याचिका में पक्षकार बनने के लिये उच्चतम न्यायालय (Supreme court) में शुक्रवार को एक आवेदन दाखिल किया क्योंकि पटना में दर्ज कराई गई प्राथमिकी की जांच का मामला अब केन्द्रीय जांच ब्यूरो को सौंप दिया गया है.

रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिह राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिंह द्वारा पटना के राजीव नगर थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी मुंबई स्थानांतरित करने के लिये उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर कर रखी है. राजपूत के पिता ने अपनी प्राथमिकी में रिया और छह अन्य व्यक्तियों के खिलाफ आत्महत्या के लिये उकसाने सहित कई अपराधों के आरोप लगाये हैं.

सीबीआई कर रही है मामले की जांच
केन्द्र ने अपने आवेदन में कहा है कि चूंकि पटना में दर्ज प्राथमिकी का मामला अब सीबीआई को स्थानांतरित हो गया है, इसलिए इस मामले में उसे पक्षकार बनाना जरूरी और उचित हैं. केन्द्र ने यह आवेदन कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के सचिव सत्य प्रकाश राम त्रिपाठी के माध्यम से दायर किया गया है.
अब तक 56 लोगों के बयान दर्ज


केन्द्र ने इससे पहले न्यायालय को सूचित किया था कि पटना में दर्ज प्राथमिकी की जांच सीबीआई को सौंपने की बिहार सरकार की सिफारिश उसने स्वीकार कर ली है. 34 वर्षीय सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के उपनगर बांद्रा में अपने मकान की छत से लटके मिले थे. इसके बाद से मुंबई पुलिस इस मामले की विभिन्न पहलुओं से पड़ताल कर रही है और अब तक कम से कम 56 व्यक्तियों के बयान दर्ज कर चुकी है.

इस मामले में पहले ही सुशांत सिंह राजपूत के पिता, बिहार सरकार और महाराष्ट्र सरकार ने कैविएट दायर की थीं. न्यायलाय ने पांच अगस्त को इन सभी को तीन दिन के भीतर अपने जवाब दाखिल करने के निदेश दिये थे. बिहार सरकार ने शुक्रवार को इस मामले में अपना हलफनामा दाखिल कर दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज