जस्टिस कुरैशी को चीफ जस्टिस बनाने पर 14 अगस्त तक फैसला ले केंद्र: SC

न्यायमूर्ति कुरैशी वर्तमान में बंबई हाईकोर्ट के जज हैं.कॉलेजियम ने उन्हें मध्य प्रदेश हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाए जाने की अनुशंसा की है.

भाषा
Updated: August 2, 2019, 4:22 PM IST
जस्टिस कुरैशी को चीफ जस्टिस बनाने पर 14 अगस्त तक फैसला ले केंद्र: SC
जस्टिस एए कुरैशी (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: August 2, 2019, 4:22 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने न्यायमूर्ति एए कुरैशी को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर नियुक्त करने की कॉलेजियम की अनुशंसा पर 14 अगस्त तक निर्णय करने का शुक्रवार को केंद्र सरकार को निर्देश दिया है. न्यायमूर्ति कुरैशी वर्तमान में बंबई हाईकोर्ट के जज हैं.कॉलेजियम ने उन्हें मध्य प्रदेश हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाए जाने की अनुशंसा की है. केंद्र ने इससे पहले न्यायालय को सूचित किया था कि न्यायमूर्ति कुरैशी की नियुक्ति का विषय उसके पास विचाराधीन है.

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायूर्ति अनिरुद्ध बोस की तीन सदस्यीय खंडपीठ को केंद्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बताया कि इस मामले में निर्णय के लिये उसे 10 दिन का और समय दिया जाना चाहिए क्योंकि संसद का सत्र अभी जारी है. पीठ ने कहा, “आपको जो भी फैसला लेना है, वह लें और उसे न्यायालय के समक्ष रखें.” पीठ ने यह भी कहा कि इस निर्णय को न्यायालय के न्यायिक या फिर प्रशासनिक पक्ष में से किसी के भी समक्ष रखा जा सकता है.

पीठ गुजरात हाईकोर्ट अधिवक्ता संघ की जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी. इसमें केंद्र को न्यायमूर्ति कुरैशी की नियुक्ति के संबंध में सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम की 10 मई की अनुशंसा पर कार्रवाई करने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया है.

2010 शाह को हिरासत में लेने का दिया था आदेश

याचिका दायर करने वाले संगठन के अध्यक्ष यतिन ओझा ने कथित रूप से कहा है कि न्यायमूर्ति कुरैशी को सिर्फ इसलिए अलग थलग किया गया है क्योंकि उन्होंने 2010 में अमित शाह, जो अब गृह मंत्री हैं, को पुलिस हिरासत में देने का आदेश दिया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 2, 2019, 4:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...