Home /News /nation /

Corona Vaccine: कोरोना को मात दे चुके लोगों के लिए भी कोवैक्सीन की दोनों डोज़ जरूरी- सरकार

Corona Vaccine: कोरोना को मात दे चुके लोगों के लिए भी कोवैक्सीन की दोनों डोज़ जरूरी- सरकार

कोवैक्सिन को लेकर सरकार ने जारी किए निर्देश. (File pic)

कोवैक्सिन को लेकर सरकार ने जारी किए निर्देश. (File pic)

Corona Vaccination: इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने अपने हालिया अध्‍ययन में कहा था कि कोविड-19 से ठीक हो चुके लोगों के लिए कोवैक्सिन की एक ही डोज पर्याप्‍त है. हालांकि सरकार ने अब साफ किया है कि कोवैक्सीन की दोनों डोज़ लगवा चुके लोगों को ही वैक्सीनेटेड माना जाएगा.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्‍ली. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (Health Ministry) ने शनिवार यह स्‍पष्‍ट किया है कि उन्‍हीं लोगों को पूरी तरह से वैक्‍सीनेटेड (Fully Vaccinated) माना जाएगा जो कोरोना वैक्‍सीन की दोनों डोज लगवाएंगे. सरकार की तरफ साथ ही साफ किया गया है कि कोविड-19 (Corona Vaccine) से ठीक हो चुके लोगों के लिए भी को‍वैक्सिन (Covaxin) की दोनों डोज़ जरूरी होगी. हाल ही में इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने अपने एक अध्‍ययन में कहा था कि कोविड-19 से ठीक हो चुके लोगों के लिए कोवैक्सिन की एक ही डोज पर्याप्‍त है. इससे उन्‍हें दोबारा संक्रमण (Coronavirus) से बचाव मिलेगा, जबकि गैर संक्रमित लोगों को दोनों डोज लगवानी होगी.

    आईसीएमआर के अध्ययन में पाया गया था कि कोविड-19 से संक्रमित और कोवैक्सिन की एक खुराक लेने वालों ने उन लोगों में समान इम्‍यून रिस्पॉन्स मिली, जो पहले कोविड -19 संक्रमण से संक्रमित नहीं हुए थे और उन्होंने टीके की दोनों डोज लगवाई थीं. यह अध्‍ययन इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च में प्रकाशित हुआ था.

    हालांकि स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि अभी तक टीकाकरण की डोज में कोई बदलाव नहीं हुआ है और इसके बारे में कोई सूचना जारी नहीं की गई है. अधिकारी का कहना है कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार लोगों को पूर्ण टीकाकरण पोस्ट-कोविड संक्रमण के लिए दो डोज लेनी चाहिए और चूंकि प्रोटोकॉल में कोई बदलाव नहीं हुआ है, इसलिए कोविन ऐप में कोई बदलाव नहीं होगा.

    अधिकारियों ने यह भी कहा कि टीके की दोनों डोज पूर्ण टीकाकरण के लिए पहले से संक्रमित व्यक्तियों के लिए भी जरूरी होगी. आईसीएमआर के सीनियर एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉक्टर समीरन पांडा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि पूर्ण टीकाकरण के लिए दो डोज जरूरी है. इसका पालन किया जाना चाहिए.

    आईसीएमआर ने एक अध्ययन किया है, जिसका नाम था- ‘एंटीबॉडी रिस्‍पांसेज टू द बीबीवी152 वैक्‍सीन इन इंडीविजुअल प्रीवियसली इंफेक्‍टेड विद सार्स सीओवी 2’. इसमें उन 114 हेल्‍थकेयर प्रोफेशनल्‍स और फ्रंटलाइन वर्कर्स ने हिस्‍सा लिया था, जिन्‍हें फरवरी और मार्च के बीच कोवैक्सिन का टीका लगा था.अध्ययन में यह भी कहा गया है कि प्रारंभिक आंकड़ों के अनुसार पहले से संक्रमित व्यक्तियों में बीबीवी152 की एक डोज गैर संक्रमित लोगों को लगी दो डोज के बराबर थी.

    Tags: Coronavirus, Covaxin, COVID 19

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर