• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Covid 19: केंद्र ने मुख्‍य सचिवों को भेजा संदेश, बढ़ते मामलों पर रहे अलर्ट, त्‍यौहारी सीजन में Lockdown लगाने में नहीं करें संकोच

Covid 19: केंद्र ने मुख्‍य सचिवों को भेजा संदेश, बढ़ते मामलों पर रहे अलर्ट, त्‍यौहारी सीजन में Lockdown लगाने में नहीं करें संकोच

केंद्र सरकार ने कोरोना संक्रमण के और तेजी से फैलाव होने को रोकने के ल‍िये ए‍हत‍ियातन तौर पर सभी राज्‍यों/यूटी को पत्र लिखकर आगाह भी क‍िया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

केंद्र सरकार ने कोरोना संक्रमण के और तेजी से फैलाव होने को रोकने के ल‍िये ए‍हत‍ियातन तौर पर सभी राज्‍यों/यूटी को पत्र लिखकर आगाह भी क‍िया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

Covid 19 in India: स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से राज्‍यों को ल‍िखे गये पत्र में मुख्य सचिवों को आने वाले त्योहारों को लेकर सतर्क किया है. भीड़ इकट्ठा न हो इसके लिए राज्य अपने स्तर से पाबंदी लगा सकते हैं. राज्यों से स्थानीय प्रतिबंधों (Local Restrications) को लागू करने और सामूहिक समारोहों को रोकने के लिए सक्रिय रूप से विचार करने का आग्रह किया है.

  • Share this:

    नई दिल्‍ली. देश में कोरोना की दूसरी लहर (Second Wave of Corona) अभी पूरी तरह से समाप्‍त नहीं हुई है. हालांक‍ि मामलों में कुछ कमी जरूर र‍िकॉर्ड की गई है. लेक‍िन कई राज्‍यों में कोरोना एक बार फ‍िर तेजी से बढ़ने लगा है ज‍िस पर केंद्र सरकार (Central Government) पूरी तरह से नजर बनाए हुये है. ऐसे में अब केंद्र सरकार ने कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के और तेजी से फैलाव होने को रोकने और उससे बचाव के ल‍िये ए‍हत‍ियातन तौर सभी राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर आगाह भी क‍िया है.

    केंद्र ने खासकर आने वाले त्‍यौहारों (Festivals) पर पूरी तरह से अलर्ट रहने के न‍िर्देश दिये हैं. साथ ही राज्‍यों को यह भी न‍िर्देश द‍िया है क‍ि वह इन त्‍यौहार कोविड-19 (Covid-19) प्रोटोकॉल उच‍ित व्‍यवह‍ार (Covid Protocol Appropriate Behaviour) का पालन कराने को त्‍यौहारी सीजन में प्रत‍िबंध भी लगा सकते हैं. यह त्‍यौहार कोरोना स्‍प्रेडर की भूम‍िका में देख जा रहे हैं.

    ये भी पढ़ें: रक्षाबंधन-गणेश चतुर्थी पर ट्रैवेल प्लान? यहां जानें कहां जरूरी है RT-PCR रिपोर्ट, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट

    बताते चलें क‍ि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर आज गुरूवार को जारी क‍िये गये ताजा आंकड़ों के मुताबिक देशभर में प‍िछले 24 घंटे में कोरोना संक्रम‍ित नये मरीजों की संख्‍या 43,982 र‍िकॉर्ड की गई है और 533 लोगों की जान भी चली गई. इसके साथ ही 41,726 लोग डिस्चार्ज हुए.

    आंकड़ों के अनुसार देश में फिलहाल 4,11,076 एक्टिव केस हैं. जबकि 3,09,74, 748 लोग डिस्चार्ज और 4,26,290 लोगों की मौत हो चुकी है. देश में बीते 24 घंटे में 723 एक्टिव केस बढ़े. नए मामले पाए जाने के बाद देश में कोरोना के कुल पुष्ट मामलों की संख्या 3,18,12,114 हो गई है. देश में अब तक कोविड-19 वैक्‍सीन की 48,93,42,295 करोड़ से अधिक डोज दी जा चुकी हैं.

    केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के सच‍िव राजेश भूषण (Rajesh Bhushan) की ओर से राज्‍यों को ल‍िखे गये पत्र में राज्यों के मुख्य सचिवों (Chief Secreatries) को चिट्ठी भेजकर आने वाले त्योहारों को लेकर सतर्क किया है. साथ ही साथ पत्र के जरिये यह भी कहा गया है कि भीड़ इकट्ठा न हो इसके लिए राज्य अपने स्तर से पाबंदी लगा सकते हैं.

    ये भी पढ़ें: Coronavirus की तीसरी लहर से कितना सुरक्षित है भारत? क्या कहते हैं वैक्सीनेशन और एंटीबॉडी के आंकड़े

    केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव ने राज्यों से स्थानीय प्रतिबंधों (Local Restrications) को लागू करने और सामूहिक समारोहों को रोकने के लिए सक्रिय रूप से विचार करने का आग्रह किया है. मंत्रालय ने आगामी त्‍यौहारों में मोहर्रम 19 अगस्‍त, ओणम 21 अगस्‍त, जन्‍माष्‍टमी 30 अगस्‍त, गणेश चतुर्थी 10 स‍ितंबर और दुर्गा पूजा 5 से 15 अक्‍टूबर आद‍ि पर बड़ी संख्‍या में लोगों के एकत्र होने की संभावना रहती है.

    देश के सभी राज्यों के मुख्य सचि‍वों और प्रशासकों को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने पत्र में ल‍िखते हुये कहा है क‍ि भारतीय च‍िक‍ित्‍सा अनुसंधान पर‍िषद (ICMR) और नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (NCDC) ने त्योहारों के दौरान बड़े पैमाने पर होने वाले कार्यक्रम, भव्य आयोजन में परिवर्तिन न हो जाए, इस पर चिंता व्यक्त की है.

    ये भी पढ़ें: Coronavirus In India: 24 घंटे में कोरोना के 42,982 नए मामले, 533 की मौत; अकेले केरल में 22,414 केस

    स्वास्थ्य सचिव ने यह भी कहा है कि मैं दोहराना चाहूंगा कि ‘टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट-टीकाकरण और कोविड से बचने के दिशानिर्देश सुनिश्चित करने’की पाँच गुना रणनीति का कड़ाई से पालन करने में किसी भी तरह की ढिलाई हमारे देश को अब तक प्राप्त प्रोत्साहन पर नकारात्मक असर डालेगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज