Home /News /nation /

सेंट्रल रेलवे ने बेटिकट यात्रियों से कमाए 100 करोड़ रुपये, 17 लाख से अधिक मुसाफिरों पर जुर्माना

सेंट्रल रेलवे ने बेटिकट यात्रियों से कमाए 100 करोड़ रुपये, 17 लाख से अधिक मुसाफिरों पर जुर्माना

सेंट्रल रेलवे ने 17 लाख से अधिक यात्रियों को बिना रेलवे टिकट यात्रा करने के लिए जुर्माना लगाया था. (सांकेतिक तस्वीर)

सेंट्रल रेलवे ने 17 लाख से अधिक यात्रियों को बिना रेलवे टिकट यात्रा करने के लिए जुर्माना लगाया था. (सांकेतिक तस्वीर)

Central Railway News: मध्य रेलवे ने इस साल अप्रैल और नवंबर के बीच अपने उपनगरीय और गैर-उपनगरीय ट्रेन नेटवर्क पर बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों से जुर्माने के तौर पर 100.82 करोड़ रुपये कमाए. इस दौरान 17 लाख से अधिक यात्रियों को बिना रेलवे टिकट यात्रा करने के लिए जुर्माना लगाया गया था.

अधिक पढ़ें ...

    मुंबई. मध्य रेलवे (Central Railway) ने इस साल अप्रैल और नवंबर के बीच अपने उपनगरीय और गैर-उपनगरीय ट्रेन नेटवर्क पर बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों से जुर्माने के तौर पर 100.82 करोड़ रुपये कमाए. इस दौरान 17 लाख से अधिक यात्रियों को बिना रेलवे टिकट यात्रा करने के लिए जुर्माना लगाया गया था.

    इसमें उन 23,816 यात्रियों से एकत्र किए गए ₹26 लाख भी शामिल हैं, जिन पर मास्क नहीं पहनने के लिए जुर्माना लगाया गया था. मध्य रेलवे (Central Railway) ने यात्रियों के खिलाफ ट्रेन के डिब्बे और रेलवे प्लेटफॉर्म के अंदर थूकने, बुकिंग कार्यालय में भीड़, अन्य के बीच कोविड-उपयुक्त व्यवहार का पालन नहीं करने के लिए 29,019 मामले दर्ज किए. अकेले उपनगरीय ट्रेन नेटवर्क पर बिना रेलवे टिकट यात्रा करने वाले 465,000 यात्रियों से 17.73 करोड़ रुपये एकत्र किए गए.

    कश्मीर में IPS अफसर ने जीता लोगों का दिल, लूट का शिकार हुए 90 साल के बुजुर्ग के घर भिजवाए 1 लाख रुपए

    उपनगरीय मध्य रेलवे में एक मुख्य लाइन शामिल है जो छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी) और कल्याण / कर्जत और कसारा रेलवे स्टेशनों, सीएसएमटी और पनवेल के बीच हार्बर लाइन और ठाणे और वाशी के बीच ट्रांस-हार्बर रेलवे लाइन के बीच संचालित होती है. वही, गैर-उपनगरीय सीआर कर्जत से आगे की रेलवे लाइनों को संदर्भित करता है.

    100 नक्सलियों ने जवानों को घेरकर बरसाई थी गोलियां, पुलिस अफसर से जानें एनकाउंटर की खौफनाक कहानी

    मध्य रेलवे (Central Railway) के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने कहा, “कमाई के मामले में, भुसावल डिवीजन ने 33.74 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया है, इसके बाद मुंबई डिवीजन ने उपनगरीय और गैर-उपनगरीय ट्रेन नेटवर्क से 33.20 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया है.”

    उन्होंने आगे कहा, “मध्य रेलवे, वास्तविक रेल यात्रियों को बेहतर सेवाएं प्रदान करने और टिकट रहित यात्रा पर अंकुश लगाने के अपने प्रयास में, सरकारी दिशानिर्देशों के अनुसार और कोरोना वायरस उपयुक्त व्यवहार का पालन करते हुए उपनगरीय और गैर-उपनगरीय ट्रेनों में टिकट रहित व अनियमित यात्रा के खिलाफ नियमित रूप से गहन अभियान चला रहा है.”

    Tags: Coronavirus, Indian Railways, Maharashtra

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर