लाइव टीवी

केरल बाढ़: केंद्र ने मदद के लिए ढाई हज़ार करोड़ रुपये को मंजूरी दी

News18Hindi
Updated: November 30, 2018, 11:58 AM IST
केरल बाढ़: केंद्र ने मदद के लिए ढाई हज़ार करोड़ रुपये को मंजूरी दी
केरल में इस साल आए बाढ़ का मंजर

राहत और पुनर्वास फंड को गृह सचिव राजीव गुहा ने आगे बढ़ा दिया है और अब इसे हाई लेबल कमेटी के पास भेज दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2018, 11:58 AM IST
  • Share this:
केंद्र सरकार ने केरल को राहत और पुनर्वास के लिए ढाई हज़ार करोड़ रुपये और देने का फैसला किया है. तीन महीने पहले केरल के 14 ज़िलों में भायनक बाढ़ आई थी जिसमें 483 लोगों की मौत हो गई थी. इस फंड को हरी झंडी मिल गई है.

इससे पहले केद्र सरकार ने केरल को राहत और पुनर्वास के लिए 600 करोड़ रुपये दिए थे. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक ढाई हज़ार करोड़ रुपये के नए फंड के साथ-साथ अब तक कुल साढ़े आठ हज़ार करोड़ रुपये केरल को मिल चुके हैं. हालांकि अब भी ये फंड केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन की उम्मीदों से काफी कम है. केरल के सीएम ने सितंबर में केद्र सरकार से 4,800 करोड़ रुपये की और मांग की थी.

राहत और पुनर्वास फंड को गृह सचिव राजीव गुहा ने आगे बढ़ा दिया है और अब इसे हाई लेबल कमेटी के पास भेज दिया गया है. इस कमेटी के मुखिया गृह मंत्री राजनाथ सिंह हैं. वित्त मंत्री अरुण जेटली और कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह के साथ गृह मंत्री इस पैकेज की अधिकारीक घोषणा करेंगे.



आपको बता दें कि बाढ़ के दौरान यूएई की सरकार ने राहत के नाम पर केरल को 700 करोड़ रुपये देने की घोषणा की थी. उसी वक्त केद्र सरकार ने केरल को 600 करोड़ देने का ऐलान किया था. शुरुआत में अनुमान लगाया गया कि बाढ़ से केरल को 20,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. लेकिन मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा था कि इससे काफी ज़्यादा का नुकसान हुआ है.



गुरुवार को विधानसभा में मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा कि चीफ मिनिस्टर फंड में अब तक 2700 करोड़ रुपये आए हैं जोकि काफी कम हैं.

ये भी पढ़ें:

वायरल हुआ किसानों का पत्र, पढ़कर भर आएंगी आंखें

कल भी घर नहीं लौटे तेजप्रताप, दोस्तों के घर गुजारी रात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2018, 11:58 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading