• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • CENTRE DISCRIMINATING WITH FUNDS FOR YAAS CYCLONE DEPRIVING BENGAL MAMATA BANERJEE KNOWAT

Yaas तूफान के फंड को लेकर भेदभाव कर रही है केंद्र सरकार: ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर लगाए आरोप. (फाइल फोटो)

ममता बनर्जी ने कहा है कि Yaas तूफान (Yaas Cyclone) की तैयारियों के लिए फंड जारी करने में केंद्र सरकार भेदभावपूर्ण रवैया अपना रही है. पश्चिम बंगाल को ओडिशा (Odisha) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) की तुलना में कम फंड आवंटित किए जा रहे हैं.

  • Share this:
    कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने सोमवार को केंद्र सरकार (Central Government) पर आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा है कि Yaas तूफान (Yaas Cyclone) की तैयारियों के लिए फंड जारी करने में केंद्र सरकार भेदभावपूर्ण रवैया अपना रही है. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल को ओडिशा (Odisha) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) की तुलना में कम फंड आवंटित किए जा रहे हैं.

    ममता बनर्जी ने कहा- केंद्र ने आंध्र प्रदेश और ओडिशा दोनों के लिए अलग अलग 600 करोड़ के अडवांस फंड का ऐलान किया है.लेकिन पश्चिम बंगाल को करीब 400 करोड़ का ही फंड दिया गया. मैं पूछना चाहती हूं कि आखिर फंड आवंटन में पश्चिम बंगाल के साथ भेदभाव क्यों बरता जा रहा है? जबकि हमारा राज्य ज्यादा बड़ा है और आबादी भी सघन है.



    लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जाना शुरू किया जा चुका है
    बचाव कार्यों को लेकर ममता ने कहा-लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जाना शुरू किया जा चुका है और करीब 10 लाख लोगों को हटाना पड़ेगा. तूफान से राहत के लिए 4 हजार रिलीफ सेंटर बनाए गए हैं. 51 रेस्क्यू टीम बनाई गई हैं. एक कंट्रोल रूम बनाया गया है जो दिन रात काम कर रहा है. ब्लॉक लेवल से लेकर सचिवालय कोऑर्डिनेशन जारी है. बता दें मई 2020 में भी पश्चिम बंगाल में अंफन तूफान ने तबाही मचाई थी. तब 98 लोगों को जान गंवानी पड़ी थी बड़े स्तर पर इमारतों और संपत्ति को क्षति पहुंची थी.

    18 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आए
    कोरोना से बचाव के लिए ममता बनर्जी ने जनता को फिर एक बार सजग किया. उन्होंने राज्य की जनता से अपील की कि मास्क जरूर पहनें और सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखें. रविवार को राज्य में 18 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. करीब 156 लोगों ने महामारी से जान गंवाई है. राज्य में इस महीने की शुरुआत में विधानसभा चुनाव परिणाम आए हैं. चुनावी रैलियों में हुई भीड़भाड़ को भी कोरोना के मामलों में आई तेजी के पीछे कारण माना जा रहा है.
    Published by:Arun Tiwari
    First published: