रूस की कोरोना वैक्‍सीन पर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन बोले- सभी पहलुओं पर चर्चा के बाद लेंगे निर्णय

रूस की कोरोना वैक्‍सीन पर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन बोले- सभी पहलुओं पर चर्चा के बाद लेंगे निर्णय
रूसी कोरोना वैक्‍सीन पर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने बयान दिया है.(फाइल फोटो)

Russian Corona Vaccine: अभी कुछ दिन पहले रूस ने कोरोना वायरस (Coronavirus) की सफल वैक्‍सीन के तैयार करने का ऐलान किया था. इसके साथ ही उसने कहा था कि भारत समेत 20 देश इस वैक्‍सीन को खरीदना चाहते हैं. अब इसपर केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) ने कहा कि हर पहलू पर चर्चा के बाद ही इसपर कोई निर्णय लिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 9:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. रूस (Russia) ने मंगलवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) की सफल वैक्‍सीन तैयार करने का ऐलान किया था. उसके बाद ऐसा कहा गया कि रूस अन्‍य देशों को नवंबर तक इस वैक्‍सीन की सप्‍लाई कर सकता है. रूस की ओर से कहा गया था कि भारत समेत 20 देश इस वैक्‍सीन को खरीदने की इच्‍छा जाहिर कर चुके हैं. अब इस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) ने शुक्रवार को बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि केंद्र सरकार इस सप्‍ताह की शुरुआत में रूसी कोरोना वैक्‍सीन को लेकर हर पहलू पर गंभीरता से विचार करने के बाद ही उचित निर्णय लेगी.

भारत में कोविड-19 रोगियों के स्वस्थ होने की दर दुनिया में सर्वश्रेष्ठ, मृत्यु दर सबसे कम : हर्षवर्धन
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के प्रभावों को कम करने के लिए भारत ने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये हैं और कोरोना वायरस रोगियों के स्वस्थ होने की दर दुनिया में सर्वाधिक है जबकि मृत्यु दर सबसे कम है. एक आधिकारिक बयान के अनुसार, दिल्ली चिकित्सा संघ (डीएमए) के 106वें स्थापना दिवस समारोह में हर्षवर्धन डिजिटल तरीके से शामिल हुए. उन्होंने कहा कि शुरुआत में कोरोना वायरस नमूनों की जांच के लिए केवल एक प्रयोगशाला थी, लेकिन अब देश में 1,400 से अधिक प्रयोगशालाएं हैं.

हर्षवर्धन के हवाले से बयान में कहा गया, 'हमने कोविड-19 महामारी के असर को कम करने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये हैं. हमारे देश में संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर दुनिया में सर्वाधिक है जबकि मृत्यु दर सबसे कम है.' उन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए जान गंवाने वाले 245 कोरोना योद्धाओं को अपनी श्रद्धांजलि दी जिनमें डॉक्टर, नर्स और अर्द्धचिकित्सा कर्मी शामिल हैं.
हर्षवर्धन ने कहा कि भारत डब्ल्यूएचओ द्वारा तय वैश्विक लक्ष्य से पांच साल पहले ही 2025 तक भारत से टीबी के उन्मूलन के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि सरकार देश में आयुष्मान भारत-पीएमजेएवाई कार्यक्रम के तहत 2022 के अंत तक डेढ़ लाख वैलनेस केंद्र खोलने को कटिबद्ध है. स्वास्थ्य मंत्री ने 1994 में देश में पहले 'पल्स पोलियो अभियान' को सफल बनाने में अहम योगदान के लिए डीएमए के सदस्यों के प्रति आभार व्यक्त किया. उन्होंने कहा, 'पिछले नौ साल में पोलियो का एक भी मामला सामने नहीं आया है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज