Home /News /nation /

छगन भुजबल फिर जाएंगे जेल, हाई कोर्ट में याचिका रद्द, अस्पताल ने भी खोली पोल

छगन भुजबल फिर जाएंगे जेल, हाई कोर्ट में याचिका रद्द, अस्पताल ने भी खोली पोल

छगन भुजबल (फाइल फोटो)

छगन भुजबल (फाइल फोटो)

बॉम्बे हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और एनसीपी नेता छगन भुजबल को झटका देते हुए उनकी याचिका खारिज कर दी है।

    मुंबई। महाराष्ट्र सदन घोटाले में फंसे पूर्व मंत्री और एनसीपी नेता छगन भुजबल को आज दोहरा झटका लगा। एक तरफ बॉम्बे हाईकोर्ट ने उनकी याचिका खारिज कर दी, दूसरी तरफ अस्पताल की रिपोर्ट से साफ हो गया कि वो पूरी तरह स्वस्थ हैं। छगन भुजबल ने कोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि उन पर कोई मामला नहीं बनता और प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से की गई उनकी गिरफ्तारी अवैध है। लेकिन कोर्ट ने उनकी ये दलील खारिज कर दी। इस बीच पीएमएलए कोर्ट ने जेजे अस्पताल से आर्थर रोड जेल भेजने का आदेश दे दिया।

    वहीं महाराष्ट्र सदन घोटाले के आरोपी छगन भुजबल पर एक अहम खुलासा हुआ है। मुंबई के सरकारी जे जे अस्पताल की रिपोर्ट के मुताबिक छगन भुजबल एकदम स्वस्थ हैं। जब डॉक्टरों ने छगन भुजबल को एंजियोग्राफी कराने को कहा तो सच सामने आने के डर से छगन भुजबल ने इससे इनकार कर दिया। न्यूज18इंडिया के पास जे जे अस्पताल की पूरी रिपोर्ट है।

    वहीं इस मामले में याचिकाकर्ता सामाजिक कार्यकर्ता अंजलि दमानिया ने फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि भुजबल की याचिका ही गलत थी। हाईकोर्ट ने याचिका खारिज कर दी। ईमानदारी की एक बार फिर जीत हुई है और मैं बहुत खुश हूं।

    कभी फूल बेचते थे भुजबल, खड़ा कर डाला करोड़ों का साम्राज्य!

    बता दें कि 2 और 3 दिसंबर को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अधिकारियों ने बॉम्बे अस्पताल का औचक निरीक्षण किया था जहां भुजबल थैलियम स्कैन के लिए पहुंचे थे। अधिकारी जांचने पहुंच थे कि कहीं भुजबल को सुविधाओं भर इलाज तो नहीं मिल रहा है? आरोप ये भी लगा कि उन्हें मिलने यहां कई लोग पहुंचे। ये सब सीसीटीवी में भी कैद हुआ।

    बॉम्बे अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद उन्हें मुंबई के आर्थर रोड जेल भेजा जाना था। लेकिन वह बीमारी की बात बताकर सरकारी जेजे अस्पताल में भर्ती हो गए।  भुजबल पर आरोप लगते रहे हैं कि वह बहाना बनाकर अस्पताल में भर्ती हुए हैं। न्यूज18इंडिया के नए खुलासे से इसकी तस्दीक होती दिख रही है।

     

     

    Tags: Bombay high court

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर