चंदा कोचर ने कहा- 'बर्खास्तगी से हैरान और दुखी हूं'

कोचर ने कहा कि उन्होंने पूरी 'मेहनत और निष्ठा' के साथ 34 साल तक आईसीआईसीआई समूह की सेवा की है और बैंक के ताजा फैसले से उन्हें 'बहुत दुख और तकलीफ' पहुंची है.

भाषा
Updated: January 31, 2019, 8:57 AM IST
चंदा कोचर ने कहा- 'बर्खास्तगी से हैरान और दुखी हूं'
चंदा कोचर की फाइल फोटो
भाषा
Updated: January 31, 2019, 8:57 AM IST
आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) चंदा कोचर ने बैंक द्वारा उनके इस्तीफे को 'गंभीर गलतियों के लिए बर्खास्तगी' के तौर पर लेने के फैसले को लेकर 'हैरानी, निराशा और दुख' जताया है. बैंक ने श्रीकृष्ण समिति द्वारा की गई स्वतंत्र जांच की रिपोर्ट मिलने के बाद यह फैसला किया है. बैंक निदेशक मंडल ने इसके साथ ही 2009 से कोचर को दिए गए बोनस को वापस लेने के लिए कहा है.

ये भी पढ़ें: ICICI बैंक बोर्ड ने Videocon मामले में MD चंदा कोचर को दी क्लीन चिट

कोचर ने कहा कि उन्होंने पूरी 'मेहनत और निष्ठा' के साथ 34 साल तक आईसीआईसीआई समूह की सेवा की है और बैंक के ताजा फैसले से उन्हें 'बहुत दुख और तकलीफ' पहुंची है. कोचर ने बयान में कहा कि बैंक में कर्ज देने का कोई भी फैसला एकतरफा नहीं होता है. बैंक ने इसके लिए पूरी प्रक्रिया बनाई है, जिसमें एक समिति के द्वारा सामूहिक फैसला लिया जाता है.

ये भी पढ़ें: क्या CBI ने दीपक और चंदा कोचर मामले में, वीडियोकॉन के गलत ऑफिस पर छापा मारा?

उन्होंने दावा किया, 'बैंक का संगठनात्मक ढांचा और संरचना हितों के टकराव की संभावना को कम करती है.' कोचर ने कहा, 'मैंने अपने करियर को पूरी ईमानदारी के साथ आगे बढ़ाया है. एक पेशेवर के रूप में मुझे अपने आचरण पर पूरा विश्वास है. मुझे पूरा भरोसा है कि अंत में सत्य की जीत होगी.'
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 31, 2019, 8:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...