आंध्र प्रदेश: जगन की जीत के हीरो प्रशांत किशोर को चंद्रबाबू नायडू ने दिया ऑफर

टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने प्रशांत किशोर की इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (IPAC) के साथ अनुबंध के लिए पेशकश की है.

News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 6:53 PM IST
आंध्र प्रदेश: जगन की जीत के हीरो प्रशांत किशोर को चंद्रबाबू नायडू ने दिया ऑफर
चंद्रबाबू नायडू और प्रशांत किशोर (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 6:53 PM IST
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी को विधानसभा चुनावों में शानदार जीत दिलाने के बाद प्रशांत किशोर अब टीडीपी चीफ चंद्रबाबू नायडू के साथ भी बातचीत कर रहे हैं. ऐसी ख़बरें हैं कि चंद्रबाबू नायडू ने प्रशांत किशोर की कंपनी इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (IPAC) को चुनावी रणनीति बनाने के लिए एक बड़े ऑफर की पेशकश की है.

पूर्व मुख्यमंत्री के करीबी सूत्रों के अनुसार, चंद्रबाबू नायडू ने इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (IPAC) से कई वर्षों के लिए अनुबंध की पेशकश की है. हालांकि यह अभी स्पष्ट नहीं है कि आधिकारिक समझौता हुआ है या नहीं, सूत्रों ने News18 को बताया कि नायडू ने IPAC के सामने एक प्रस्ताव रखा है. 2016 में भी नायडू की प्रशांत किशोर को साथ लाने की बात हुई थी, लेकिन तब यह सौदा नहीं हो पाया था.



जगन की जीत के 'हीरो' हैं प्रशांत किशोर
बता दें कि प्रशांत किशोर ने हाल ही में आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआर कांग्रेस को सत्ता तक पहुंचाया है. वाईएसआर ने विधानसभा चुनाव में शानदार जीत हासिल की है. प्रशांत किशोर की चुनावी रणनीति की वजह से चंद्रबाबू को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी. लोकसभा चुनाव में जगनमोहन रेड्डी की वाईएसआर कांग्रेस ने आंध्र प्रदेश की सभी 25 सीटें जीतीं और विधानसभा में 175 में से 150 सीटों पर कब्जा जमाया.

2017 में जगन से जुड़े थे प्रशांत
जगनमोहन रेड्डी ने 2017 में प्रशांत किशोर को काम पर रखा था, जब वह आय से अधिक संपत्ति के आरोपों से घिरे हुए थे. IPAC टीम का पहला कदम 3,600 किलोमीटर की पदयात्रा था. रेड्डी की आंध्र के लोगों से संपर्क के लिए 341 दिन की इस पदयात्रा ने उनके पक्ष में माहौल बनाने में मदद की. जिसने मतदाताओं को करीब लाने का काम किया.

ये भी पढ़ें- कर्मचारियों को सरकार का तोहफा, ESI कंट्रीब्यूशन में की कटौती
Loading...

ममता का फरमान, बंगाल में रहना है तो बांग्ला सीखो

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...