लाइव टीवी

कोरोना वायरस टेस्ट किट बनाने के बेहद करीब है चेन्नई की यह कंपनी

News18Hindi
Updated: March 17, 2020, 11:03 PM IST
कोरोना वायरस टेस्ट किट बनाने के बेहद करीब है चेन्नई की यह कंपनी
भारत अभी तक पूरी तरह से बाहर से आयातित टेस्टिंग किट पर निर्भर रहा है .

ट्रिविटरॉन हेल्थकेयर ग्रुप (Trivitron Healthcare Group) के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ जीएसके वेलू (Dr GSK Velu) ने कहा है कि कंपनी की बनाई गई किट, अपने जैसी अन्य विदेशी किट (Other Foreign Kits) के मुकाबले आधे दामों पर उपलब्ध होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2020, 11:03 PM IST
  • Share this:
पूर्णिमा मुरली
चेन्नई.
 चेन्नई (Chennai) की एक कंपनी ट्रिविटरॉन हेल्थकेयर ग्रुप (Trivitron Healthcare Group) ने भारत की पहली कोरोना टेस्टिंग किट (Corona Testing Kit) बनाने के बेहद करीब होने का दावा किया है. हालांकि, इसे बाजार में आने से पहले सरकार निर्धारित सुविधा केंद्र (government-approved facility) पर टेस्टिंग से गुजरना होगा. जिसके बाद बाजार (Market) में आने में इसे 2 से 3 हफ्ते का समय लगेगा.

भारत ने जर्मनी को दिया था करीब 10 लाख टेस्टिंग किट के लिए ऑर्डर
News18 से बात करते हुए ट्रिविटरॉन हेल्थकेयर ग्रुप के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ जीएसके वेलू (Dr GSK Velu) ने कहा कि कंपनी पिछले एक महीने से इस किट को बनाने के लिए काम कर रही थी और कंपनी ने इसके अनुसंधान और निर्माण में उल्लेखनीय सफलता पाई है.



केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए अपनी जांच और निदान की प्रक्रिया को बढ़ाने के लिए जर्मनी (Germany) से करीब 10 लाख टेस्टिंग किट मंगाने का ऑर्डर दिया है.



जानकारों को डर, सीमित टेस्टिंग क्षमता के चलते संक्रमित लोगों को खोज पाने में नाकामी
लेकिन अभी तक, भारत पूरी तरह से बाहर से आयातित टेस्टिंग किट पर निर्भर रहा है साथ ही यह प्रक्रिया एयरलाइन्स (Airlines) के बंद होने के चलते रुकी हुई है. ऐसे में अगर स्थानीय तौर पर किट बनाने की प्रक्रिया शुरू होती है तो टेस्टिंग में बड़ी मदद मिलेगी.

कोरोनावायरस से अब तक देश में तीन मौतें हो चुकी हैं और कुल 126 लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. कई जानकारों ने डर जताया है कि संक्रमित लोगों की संख्या कहीं ज्यादा हो सकती है लेकिन सरकार साधारण तौर पर अपनी सीमित टेस्टिंग क्षमता (limited testing capacity) के चलते उन्हें खोज पाने में नाकाम रही है.

विदेशी आयातित किट से आधे दामों पर उपलब्ध होगी यह घरेलू किट
डॉ वेलू ने आश्वासन दिया है कि कंपनी की बनाई गई किट आयातित विदेशी किट के मुकाबले करीब आधे दामों पर उपलब्ध होगी. उन्होंने बताया कि कंपनी (Company) की हर किट को 500 रुपये से 1000 रुपये में बेचने की योजना है.

हालांकि डॉ वेलू ने न्यूज18 से बताया, हमारे पास इस मामले में अब भी सरकार (Government) की ओर से दिशानिर्देश नहीं हैं."

यह भी पढ़ें: कोरोना से जंग- भारत-चीन के सामने फिसड्डी है अमेरिकी पब्लिक हेल्थ केयर सिस्‍टम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 17, 2020, 10:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading