लाइव टीवी

चेतन भगत ने इसरो में चीफ गेस्ट बनने पर जाहिर की खुशी तो ट्विटर पर उड़ा मजाक

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 1:18 PM IST
चेतन भगत ने इसरो में चीफ गेस्ट बनने पर जाहिर की खुशी तो ट्विटर पर उड़ा मजाक
विश्व अंतरिक्ष सप्ताह के मौके पर लेखक चेतन भगत को चीफ गेस्ट बनाया गया.

चेतन भगत (Chetan Bhagat) ने कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (Indian Space Research Organization) में मुझे चीफ गेस्ट के रूप में सम्मानित किया गया था. मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि उन्हें इसरो जैसे संगठन में संबोधित करने के लिए चुना गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 1:18 PM IST
  • Share this:
विश्व अंतरिक्ष सप्ताह (World Space Week) के मौके पर इसरो (Indian Space Research Organization) ने लेखक और कॉलमिस्ट चेतन भगत (Chetan Bhagat) को मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाया गया था. इसरो (ISRO) में मिले सम्मान के बारे में बताते हुए चेतन भगत ने कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में मुझे चीफ गेस्ट के रूप में सम्मानित किया गया था. मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि मुझे इसरो जैसे संगठन में संबोधित करने के लिए चुना गया है.

चेतन भगत ने इसरो की एक फोटो शेयर करते हुए कैप्शन लिखा है, विश्व अंतरिक्ष सप्ताह के हालिया समारोह में इसरो ने मुझे मुख्य अतिथि के रूप में सम्मानित किया. मैं विश्वास नहीं कर सकता कि भारत के सबसे अच्छे संगठन में से एक ने मुझे वहां मौजूद लोगों को संबोधित करने के लिए चुना. मेरे जीवन का ये सबसे अनमोल क्षण है-मुझे लग रहा है कि मैं चांद पर उतर आया हूं.



चेतन भगत के इस ट्वीट पर अब यूजर्स को विश्वास नहीं हो रहा है. कुछ यूजर्स ने कहा कि चेतन भगत वहां पर मौजूद नहीं थे जबकि एक यूजर्स ने कहा कि इसरो ने चेतन भगत को अपने यहां बुलाकर संगठन को बदनाम किया है.
Loading...

Chetan Bhagat, ISRO, World Space Week, Indian Space Research Organization

Chetan Bhagat, ISRO, World Space Week, Indian Space Research Organization

Chetan Bhagat, ISRO, World Space Week, Indian Space Research Organization

Chetan Bhagat, ISRO, World Space Week, Indian Space Research Organization

अभिनव अनुराग नामके यूजर ने लिखा, इसरो ये क्या किया आपने, वहीं एक यूजर ने लिखा, सर आप इसरो की किसी रॉकेट में बैठके स्पेस क्यों नहीं चले जाते... हम भारती वाले लोग सदा आपके आभारी रहेंगे. वहीं एक यूजर ने लिखा हम इस पर विश्वास नहीं कर सकते.

इसे भी पढ़ें :- अब गहरे समुद्र के भी राज खोलेगा ISRO, 'कैप्‍सूल' से 6000 मीटर तक गोता लगा सकेंगे वैज्ञानिक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 12:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...