लाइव टीवी
Elec-widget

106 दिन बाद जेल से बाहर आए चिदंबरम, सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे दस जनपथ

News18Hindi
Updated: December 4, 2019, 9:44 PM IST
106 दिन बाद जेल से बाहर आए चिदंबरम, सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे दस जनपथ
चिदंबरम राज्यसभा के सांसद हैं.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम पर आईएनएक्स मीडिया मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था और वह 106 दिन से हिरासत में थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2019, 9:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. INX Media मामले में आरोपी कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत दे दी. करीब 106 दिन तक जेल में रहने के बाद चिदंबरम बुधवार को ही तिहाड़ जेल से बाहर आ गए. जेल से बाहर आने के बाद चिदंबरम और उनके बेटे कार्ती कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने उनके निवास दस जनपथ पहुंचे. चिदंबरम ने जेल से बाहर आकर मीडिया से बातचीत नहीं की हालांकि इतना ज़रूर कहा कि वे जमानत पर बाहर आकर खुश हैं और कल प्रेस कांफ्रेंस करेंगे.

चिदंबरम को जमानत मिलने के बाद उनके बेटे और लोकसभा सांसद कार्ति चिदंबरम ने टिप्पणी की. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कार्ति ने कहा- पी चिदंबरम गुरुवार को 11 बजे संसद पहुंचेंगे. कार्ति ने कहा, 'मुझे इस बात की बहुत खुशी है कि मेरे पिता को जमानत मिली. वह घर लौट आएंगे.' उन्होंने कहा कि पी चिदंबरम को राजनीति की वजह से फंसाया गया था. 2007 का मामला 2017 में दर्ज हो रहा है. कार्ति ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को जो भी कहना है कहे हम कोर्ट में जवाब देंगे.

उन्होंने कहा कि चिदंबरम कल 11 बजे संसद आएंगे. कार्ति ने दावा किया, 'चिदंबरम से उनकी बात हो चुकी है और वह संसद पहुंचेंगे.' माना जा रहा है कि तिहाड़ से चिदंबरम की वापसी पर कांग्रेस उनका ग्रैंड वेलकम करने की तैयारी कर रही है.


Loading...

जज ने रिहाई के आदेश जारी किये
सुप्रीम कोर्ट की ओर से पी चिदंबरम को जमानत दिये जाने के कुछ घंटे बाद पूर्व वित्त मंत्री ने शीर्ष अदालत के आदेश के अनुसार बुधवार को दिल्ली की एक अदालत में दो लाख रुपये का निजी मुचलका भरा. विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ ने मुचलका और इतनी ही राशि की दो जमानतें स्वीकार कीं और उनकी रिहाई के आदेश जारी किये.

अदालत ने कांग्रेस के 74 वर्षीय इस वरिष्ठ नेता को जमानत पर रिहा करते हुए आदेश दिया कि वह इस मामले के संबंध में मीडिया से कोई बात नहीं करेंगे और निचली अदालत की अनुमति के बिना देश से बाहर नहीं जाएंगे.

 



21 अगस्त को हुए थे गिरफ्तार
अदालत ने पूर्व वित्त मंत्री को जमानत देने से इनकार करने संबंधी दिल्ली हाईकोर्ट का फैसला निरस्त कर दिया. अदालत ने कहा कि वह न तो गवाहों को प्रभावित करने का प्रयास करेंगे और न ही सबूतों से छेड़छाड़ करेंगे. चिदंबरम को पहली बार आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में सीबीआई ने 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था. इस मामले में उन्हें शीर्ष अदालत ने 22 अक्टूबर को जमानत दे दी थी.

इसी दौरान 16 अक्टूबर को ईडी ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले से संबंधित धन शोधन के मामले में चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया था.

यह भी पढ़ें:  INX केस: चिदंबरम को आखिर क्यों याद आए रंगा-बिल्ला? जानें इनकी कारिस्तानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 5:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com