CEC सुनील अरोड़ा समेत दोनों चुनाव आयुक्तों का हुआ कोरोना वैक्सीनेशन

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा. (फाइल फोटो)

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा. (फाइल फोटो)

चुनाव आयोग के मुख्यालय निर्वाचन सदन में आयोग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कोविड-19 का टीका लगाने के लिए चार मार्च को टीकाकरण शुरू किया गया था. पूर्व चुनाव आयुक्त एम.एस. गिल (M.S. Gill) ने सबसे पहले टीका लगवाया.

  • Share this:
नई दिल्ली. मुख्य निर्वाचन आयुक्त (सीईसी) सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) और चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा तथा राजीव कुमार ने मंगलवार को कोविड-19 का टीका लगवाया. एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. चुनाव आयोग के मुख्यालय निर्वाचन सदन में आयोग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कोविड-19 का टीका लगाने के लिए चार मार्च को टीकाकरण शुरू किया गया था. पूर्व चुनाव आयुक्त एम.एस. गिल ने सबसे पहले टीका लगवाया.

टीकाकरण के दौरान सीईसी और दो अन्य चुनाव आयुक्तों तथा गिल ने कोविड-19 की पहली खुराक ली. सीईसी अरोड़ा ने हाल ही में घोषणा की थी कि चुनावी ड्यूटी वाले सभी कर्मचारी अग्रिम मोर्चे के कर्मी हैं और उन्हें उनकी चुनावी ड्यूटी शुरू होने से पहले टीका लगाया जाएगा. आयोग ने 29 फरवरी को असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी विधानसभा चुनावों की घोषणा की थी. चुनावी ड्यूटी पर जाने से पहले विशेष टीकाकरण अभियान के तहत लाखों मतदान कर्मियों को टीका लगाया जाएगा.

बता दें 1 मार्च से 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और किसी दूसरी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को एक मार्च से कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण शुरू किया गया है. वहीं, निजी क्लिनिकों एवं केंद्रों पर उन्हें इसके लिए शुल्क देना पड़ रहा है. कुछ देशों में मिले वायरस के नए स्वरूप के मद्देनजर केंद्र ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को भी आगाह किया है कि सख्त पाबंदी में किसी तरह की ढिलाई से हालात जटिल हो सकते हैं.

16 जवरी से भारत में शुरू हुआ था टीकाकरण अभियान
पीएम की अगुवाई वाली कैबिनेट बैठक में फैसला लिया गया था कि 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों तथा किसी दूसरी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना वायरस रोधी टीका एक मार्च से लगाया जायेगा. देश में कोविड-19 टीकाकरण का पहला चरण 16 जनवरी से शुरू हुआ था जिसमें देश के स्वास्थ्यकर्मियों और प्रथम पंक्ति के कर्मचारियों का टीकाकरण शुरू किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज