सेना प्रमुख ने किया आगाह, सीमा पर लड़ाई नहीं साइबर युद्ध की तैयारी कर रहा चीन

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने आगाह किया है कि सेना में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और बिग डाटा कंप्यूटिंग को शामिल करना होगा, जिससे दुश्‍मन के हर वार से अपने आपको बचाया जा सके.

News18Hindi
Updated: January 21, 2019, 11:06 AM IST
सेना प्रमुख ने किया आगाह, सीमा पर लड़ाई नहीं साइबर युद्ध की तैयारी कर रहा चीन
सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत
News18Hindi
Updated: January 21, 2019, 11:06 AM IST
सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने आगाह किया है कि चीन अब नए तरीके से युद्ध में भारत को हराने की तैयारी कर रहा है. सेना प्रमुख के मुताबिक अब तक हमने सीमा पर आमने-सामने की लड़ाई लड़ी है लेकिन बहुत जल्‍द हमारी लड़ाई सीमा पर न होकर साइबर हमले के जरिए लड़ी जाएगी. उन्‍होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में चीन ने इस ओर काफी ध्‍यान दिया है और साइबर युद्ध के लिए खुद को काफी मजबूत कर चुका है. हमें भी इस ओर अपनी ताकत बढ़ानी होगी. सेना में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और बिग डाटा कंप्यूटिंग को शामिल करना होगा, जिससे दुश्‍मन के हर वार से अपने आपको बचाया जा सके. उन्होंने कहा कि चीन इस प्रौद्योगिकी पर काफी धन खर्च कर रहा है.

सेना प्रमुख ने कहा कि उत्तरी सीमा पर हमारे पड़ोसी देश चीन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और साइबर युद्ध पर काफी पैसा खर्च कर रहा है. ऐसे में हम पीछे नहीं रह सकते. रक्षा विनिर्माण में आत्म निर्भरता पर आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन में उन्होंने कहा कि आने वाले वक्‍त में हम बंदूक और राइफल के अलावा हम कई गैर संपर्क वाला युद्ध होते देखेंगे. भविष्‍य के युद्ध साइबर क्षेत्र में लड़े जाएंगे. उन्‍होंने कहा कि बिग डाटा कंप्‍यूटिंग को रक्षा प्रणाली में कैसे शामिल किया जाए, इसकी प्रासंगिकता को समझना काफी जरूरी हो चुका है. सेना प्रमुख ने कहा, हमारे लिए भी महज परिभाषा तक सीमित रखने की जगह कृत्रिम बुद्धिमत्ता और बिग डाटा एनालिटिक्स पर ध्यान केंद्रित करने का समय है.

इसे भी पढ़ें :- आर्मी डे पर जनरल रावत ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, कहा- आतंकियों को पनाह दी तो मिलेगा करार जवाब



उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान से किसी भी तहर की शांति की गुंजाइश नहीं है. इसलिए सशस्‍त्र बलों के लिए नई तकनीक को लागू करने की जरूरत है. उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान में सरकारें बदलती हैं लेकिन सीमा पर तनाव हमेशा से वैसा ही रहता है. पाकिस्‍तान की कोई भी सरकार सीमा पर तनाव कम करने का काम नहीं करती.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...