सर्वदलीय बैठक में बोलीं सोनिया गांधी- कुछ चीजें अंधेरे में, 5 मई के बाद ही बुलानी चाहिए थी बैठक

सर्वदलीय बैठक में बोलीं सोनिया गांधी- कुछ चीजें अंधेरे में, 5 मई के बाद ही बुलानी चाहिए थी बैठक
सर्वदलीय बैठक में सोनिया गांधी ने कई तीखे सवाल पूछे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई. इसमें यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia gandhi) ने कहा कि कई चीजें अभी अंधेरे में हैं. सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार से पूछा कि चीन की सेना ने किस तारीख को लद्दाख में अतिक्रमण किया?

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 20, 2020, 12:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और चीन के बीच लद्दाख में जारी विवाद और हिंसक झड़प में शहीद हुए भारत के 20 जवानों को लेकर देशभर में जमकर गुस्सा है. इस संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई. इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia gandhi) ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने और उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करने के बाद अपनी बात शुरू की. सोनिया गांधी ने कहा, कई चीजें अभी अंधेरे में हैं.

सूत्रों के अनुसार, सोनिया ने केंद्र सरकार से पूछा, 'चीन की सेना ने किस तारीख को लद्दाख में अतिक्रमण किया? क्या यह 5 मई को हुआ था या पहले?' उन्होंने कहा कि जब 5 मई को लद्दाख समेत कई जगह चीनी घुसपैठ की जानकारी सामने आई, तो उसके तुरंत बाद ही सरकार को सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए थी.'

ये भी पढ़ेंः-चीन विवाद पर सर्वदलीय बैठक में बोलीं ममता बनर्जी- हम सब साथ हैं, भारत जीतेगा



सरकार से पूछे कई तीखे सवाल
केंद्र सरकार पर सवाल उठाते हुए सोनिया ने कहा, 'क्या सरकार को बॉर्डर की सैटेलाइट से तस्वीरें नहीं मिलती हैं? क्या खुफिया एजेंसियों ने बॉर्डर पर हो रही हलचल की जानकारी नहीं दी? क्या मिलिट्री इंटेलिजेंस ने सरकार को एलएसी के पास उनकी सीमा में या भारतीय सीमा की तरफ चीन द्वारा सेना को जुटाने की जानकारी नहीं दी थी? क्या यह खुफिया विभाग की असफलता नहीं है?'


पूरा देश एक साथ खड़ा हैः सोनिया
सूत्रों के अनुसार सोनिया गांधी ने कहा, 'देश को आश्वासन की जरूरत है कि यथास्थिति बहाल हो. माउंटेन स्ट्राइक कोर की वर्तमान स्थिति क्या है? विपक्षी दलों को नियमित रूप से जानकारी दी जानी चाहिए.' उन्होंने कहा, 'राष्ट्र की अखंडता और रक्षा के लिए पूरा देश एक साथ खड़ा है. साथ ही सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का समर्थन करता है.'


सीधे बात क्यों नहीं की गई?
सोनिया ने कहा, कांग्रेस पार्टी का यह मानना है कि 5 मई से लेकर 6 जून के बीच का कीमती समय हमने गंवा दिया, जब दोनों देशों के कोर कमांडरों की बैठक हुई. 6 जून की इस बैठक के बाद भी चीन के नेतृत्व से राजनीतिक और कूटनीतिक स्तरों पर सीधे बात क्यों नहीं की गई?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading