Home /News /nation /

भारतीय सेना के आगे झुका चीन, कहा- हमें मिला अरुणाचल का लड़का, 1 हफ्ते में लौटेगा भारत

भारतीय सेना के आगे झुका चीन, कहा- हमें मिला अरुणाचल का लड़का, 1 हफ्ते में लौटेगा भारत

अरुणाचल प्रदेश के लड़के का चीनी सेना ने किया है अपहरण. (File pic)

अरुणाचल प्रदेश के लड़के का चीनी सेना ने किया है अपहरण. (File pic)

Arunachal Pradesh: अरुणाचल प्रदेश के अपर सियांग जिले के रहने वाले 17 साल के इस लड़के का नाम मिराम तरोन है. अरुणाचल प्रदेश से सांसद तापिर गाओ ने कहा था कि चीनी सेना ने राज्य में भारतीय क्षेत्र से उसका अपहरण कर लिया था. उन्होंने कहा कि चीनी सेना ने सियुंगला क्षेत्र के लुंगता जोर इलाके से किशोर का अपहरण किया था.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के सीमावर्ती इलाके से चीनी सेना (China Army) की ओर से किडनैप किए गए भारतीय लड़के के संबंध में अच्‍छी खबर आई है. मामले में भारतीय सेना (Indian Army) के सक्रिय होने के 3 दिन के अंदर चीन ने प्रतिक्रिया दी है. उसकी ओर से कहा जा रहा है कि एक हफ्ते के अंदर अरुणाचल प्रदेश का यह लड़का भारत लौट आएगा. भारतीय सेना ने गुरुवार को चीनी सेना से हॉटलाइन के जरिये पहली बार इस मामले में बात की थी.

रक्षा क्षेत्र में मौजूद सूत्रों ने News18 से कहा था, ‘अरुणाचल प्रदेश से मिराम तरोन नाम के लापता लड़के की घटना के संबंध में यह सूचित किया जाता है कि सूचना प्राप्त होने पर भारतीय सेना ने तुरंत हॉटलाइन के माध्यम से चीनी सेना से संपर्क किया गया था. चीनी सेना को जानकारी दी गई थी कि एक व्‍यक्ति जड़ी-बूटियां इकट्ठा कर रहा था और शिकार कर रहा था तभी वह रास्ता भटक गया और अब वह मिल नहीं रहा है. चीनी सेना से व्यक्ति का पता लगाने और प्रोटोकॉल के अनुसार उसे वापस करने के लिए सहायता मांगी गई है.’

वहीं समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार तेजपुर के डिफेंस पीआरओ लेफ्टिनेंट कर्नल हर्षवर्धन पांडे ने जानकारी दी है कि चीनी सेना की ओर से भारतीय सेना को सूचित किया गया है कि उन लोगों को अरुणाचल प्रदेश से लापता हुआ लड़का मिला है. अब उसको भारत भेजने से संबंधित प्रक्रिया अपनाई जा रही है.

अरुणाचल प्रदेश के अपर सियांग जिले के रहने वाले 17 साल के इस लड़के का नाम मिराम तरोन है. अरुणाचल प्रदेश से सांसद तापिर गाओ ने कहा था कि चीनी सेना ने राज्य में भारतीय क्षेत्र से उसका अपहरण कर लिया था. उन्होंने कहा कि चीनी सेना ने सियुंगला क्षेत्र के लुंगता जोर इलाके से किशोर का अपहरण किया था. चीनी सेना से बचकर भागने में कामयाब रहे तरोन के दोस्‍त जॉनी यइयिंग ने स्थानीय अधिकारियों को अपहरण के बारे में जानकारी दी थी.

पीएलए द्वारा तरोन के अपहरण के आरोप पर उनकी प्रतिक्रिया पूछे जाने पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था, ‘मुझे स्थिति की जानकारी नहीं है.’वहीं अरुणाचल प्रदेश के सांसद गाओ ने कहा था उन्होंने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक को घटना के बारे में सूचित किया है और उनसे इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने का अनुरोध किया है. उन्होंने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भारतीय सेना को टैग किया था.

Tags: Arunachal pradesh, China, Indian army

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर