लाइव टीवी

चीनी राजदूत ने कहा: चीन में मौजूद भारतीयों की सुरक्षा के लिए हम कड़ी मेहनत कर रहे हैं

भाषा
Updated: February 5, 2020, 3:09 PM IST
चीनी राजदूत ने कहा: चीन में मौजूद भारतीयों की सुरक्षा के लिए हम कड़ी मेहनत कर रहे हैं
भारतीयों की सुरक्षा को लेकर चीन है परेशान

चीन के राजदूत स्वन वेइतोंग ने कहा, हम उम्मीद करते हैं कि भारतीय नागरिक कोरोना वायरस को लेकर घबराएंगे नहीं. हमारे द्वारा कर रहे प्रयासों को समझेंगे. एक जिम्मेदार देश होने के नाते चीन ना केवल अपने लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा कर रहा है बल्कि दुनियाभर के लोगों की रक्षा कर रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण चीन की अर्थव्यवस्था काफी डगमगा गई है. इससे परेशान हो चीन (China) ने उम्मीद जताई कि हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस के कहर के मद्देनजर भारत उस पर व्यापार पाबंदियां नहीं लगाएगा और देश में लोगों की आवाजाही को भी सीमित नहीं करेगा. ‘पीटीआई-भाषा’ को दिए एक साक्षात्कार में चीन के राजदूत स्वन वेइतोंग ने कहा कि चीनी विदेश मंत्रालय और स्थानीय सरकारें भारतीयों और चीन में भारत के कूटनीतिक मिशनों में काम कर रहे लोगों की सुरक्षा के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं.

उन्होंने यह स्वीकार किया कि इस महामारी का चीन की अर्थव्यवस्था पर कुछ वक्त के लिए असर पड़ सकता है लेकिन देश की आंतरिक प्रतिरोध क्षमता बढ़ रही है और आर्थिक अस्थिरता से निपटने के लिए उसके पास पर्याप्त संसाधन और नीतियां हैं. मुझे विश्वास है कि कुछ वक्त की मुश्किलों से उसे नुकसान नहीं पहुंचेगा. हमें दोनों देशों के बीच आर्थिक और व्यापार सहयोग को निलंबित नहीं बल्कि बढ़ाना चाहिए.

दरअसल, हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस के कहर के मद्देनजर भारत ने एहतियात तौर पर कई अन्य देशों की तरह चीन से लोगों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी है. चीन में वायरस के कारण मरने वाले लोगों की संख्या 490 पर पहुंच गई है और 24,300 लोगों के इसकी चपेट में आने की पुष्टि हुई है.



coronavirus, infection, china, novel, australia, 2020 novel coronavirus, kerala, india, ऑस्ट्रेलिया, क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी, कोरोना वायरस, स्वाइन फ्लू, चीन, केरल, भारत में कोरोना वायरस



दुनिया के कई हिस्सों में कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी की घोषणा की है. राजदूत ने कहा, हम उम्मीद करते हैं कि भारतीय नागरिक कोरोना वायरस को लेकर घबराएंगे नहीं. हमारे द्वारा कर रहे प्रयासों को समझेंगे. एक जिम्मेदार देश होने के नाते चीन ना केवल अपने लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा कर रहा है बल्कि दुनियाभर के लोगों की रक्षा कर रहा है.

स्वन ने कहा, 'हमें दोनों देशों के बीच व्यापार तथा सामान्य निजी संवाद सुनिश्चित करने के लिए इस महामारी के नियंत्रण में चीन तथा भारत के बीच सहयोग के लिए आपकी समझ और समर्थन की आवश्यकता है.' चीन की अर्थव्यवस्था पर कोरोना वायरस के असर पर स्वन ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को लेकर निराशावादी होने की जरूरत नहीं है क्योंकि उसका बुनियाद नहीं बदला है. चीन के पास सार्स तथा अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संकट से सफलतापूर्वक निपटने का काफी अनुभव है. इस बार भी कुछ अलग नहीं होगा. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की प्रबंध निदेशक क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने हाल ही में भरोसा जताया कि चीन की सरकार के पास आर्थिक वृद्धि को स्थिर करने के लिए काफी कुछ है.

coronavirus, infection, china, novel, australia, 2020 novel coronavirus, kerala, india, ऑस्ट्रेलिया, क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी, कोरोना वायरस, स्वाइन फ्लू, चीन, केरल, भारत में कोरोना वायरस

उन्होंने चीन के विदेश मंत्री वांग यी तथा उनके भारतीय समकक्ष एस जयशंकर के बीच वायरस से पैदा हुई स्थिति से निपटने के तरीकों पर गत सप्ताह टेलीफोन पर हुई बातचीत का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा, 'टेलीफोन पर हुई बातचीत में वांग ने कहा कि वैश्विकरण के इस युग में अंतरदेशी जन स्वास्थ्य चुनौतियों से निपटने के लिए हमें वस्तुनिष्ठ तथा विवेकपूर्ण रहने तथा संचार एवं समन्वय बढ़ाने की जरूरत है.'

चीनी राजदूत ने कहा, जब डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ने एलान किया कि 2019-कोरोना वायरस अंतरराष्ट्रीय चिंता की जन स्वास्थ्य आपात स्थिति है, इसमें जोर दिया गया कि वह किसी तरह की यात्रा या व्यापार पाबंदी की सिफारिश नहीं करता है.

गौरतलब है कि शनिवार को चीन के वुहान शहर से 342 भारतीयों को वापस लाया गया जबकि रविवार को 323 भारतीयों तथा मालदीव के सात नागरिकों को बाहर निकाला गया था.

ये भी पढ़ें: क्रूज रोककर जापान ने कराई जांच, मिले कोरोना वायरस के 10 संदिग्ध

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 3:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading