बांग्लादेश सीमा से भारत में घुसे चीनी नागरिक से पूछताछ कर रही बंगाल पुलिस, शरीर में माइक्रो चिप का भी पता लगाएगी STF

एसटीएफ के अधिकारी जुनवे को भारत बांग्लादेश सीमा पर मालदा में उस स्थान पर ले गए जहां से उसे गिरफ्तार किया गया था.

जुनवे को चीन के हुबेई का निवासी बताया जा रहा है और उसे मालदा जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा से देश में घुसते समय बीएसएफ ने पकड़ा था.

  • Share this:

    कोलकाता. पश्चिम बंगाल पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) ने चीनी नागरिक हान जुनवे के भारत में घुसने के मामले की जांच अपने हाथ में लेने के बाद मंगलवार को उन परिस्थितियों को दोहराकर देखा जिसमें आरोपी देश में घुसा होगा. एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी.


    अधिकारी ने बताया कि एसटीएफ के अधिकारी जुनवे को भारत बांग्लादेश सीमा पर मालदा में उस स्थान पर ले गए जहां से उसे गत बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया था. अधिकारियों ने जुनवे से पूछा कि वह बीएसएफ से नजर बचा कर कैसे सीमा पार कर घुस आया था.


    गलवान के एक साल: पूर्व चीनी अधिकारी ने दिया ‘नया’ सुझाव, कहा- बढ़ेगा भारत-चीन में विश्वास


    अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि एसटीएफ जुनवे का सीटी स्कैन कराने पर भी विचार कर रही है जिससे यह पता चल सके कि कहीं उसके शरीर में माइक्रो चिप तो नहीं लगी है, जिसके जरिये वह खुफिया अभियान में उसके साथ शामिल लोगों को जानकारी मुहैया तो नहीं करा रहा. चीनी नागरिक की कोविड-19 जांच भी की गई है. अधिकारी ने बताया कि आरोपी कोई 'साधारण व्यक्ति' नहीं है.



    गलवान वैली संघर्ष के एक साल, सेना ने जारी किया VIDEO..वो हैं गलवान के वीर


    वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, 'वह जिस प्रकार जांचकर्ताओं के सवालों का जवाब दे रहा है उससे पता चलता है कि वह कोई साधारण व्यक्ति नहीं है. वह भली प्रकार प्रशिक्षित व्यक्ति जान पड़ता है. हम पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि कहीं वह कोई जासूस तो नहीं.'


    जुनवे को चीन के हुबेई का निवासी बताया जा रहा है और उसे मालदा जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा से देश में घुसते समय बीएसएफ ने पकड़ा था. उसके एक साथी सुन जियांग को साल की शुरुआत में उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.