लाइव टीवी

आज भारत पहुंचेंगे जिनपिंग, मामल्लापुरम में दो दिन चलेगी PM मोदी से बातचीत

News18Hindi
Updated: October 11, 2019, 6:03 AM IST
आज भारत पहुंचेंगे जिनपिंग, मामल्लापुरम में दो दिन चलेगी PM मोदी से बातचीत
भारत में चीन के राजदूत ने भी दोनों नेताओं की अनौपचारिक बैठक पर टिप्पणी की. (AP Photo/Alexander Zemlianichenko)

चीनी मीडिया ने कहा है कि शी जिनपिंग (Xi Jinping) की मोदी से मुलाकात में दोनों देशों के ऐतिहासिक और मौजूदा मतभेदों पर तथा सहयोग की क्षमता को मूर्त रूप देने के लिए मतभेदों से आगे बढ़ने पर अधिक ध्यान दिया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2019, 6:03 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली/ बीजिंग. चीन (China) के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) शुक्रवार को भारत के दौरे पर आ रहे हैं. तमिलनाडु के तटीय शहर मामल्लापुरम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और शी जिनपिंग के बीच 11 और 12 अक्तूबर को दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता होने जा रही है.

शी शुक्रवार तड़के बीजिंग से रवाना हो सकते हैं और दोपहर बाद चेन्नई पहुंचेंगे. वह पास के मामल्लापुरम पर्यटन केंद्र में मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता करेंगे.

चीन के उप विदेश मंत्री लुओ झाओहुई (China's Deputy Foreign Minister Luo Zhaohui) ने शिखर वार्ता के बारे में बुधवार को मीडिया को बताया कि दोनों पक्षों के अधिकारियों ने आपसी संवाद के माध्यम से शिखर वार्ता के लिए व्यापक तैयारियां की हैं.

लुओ ने कहा कि यह एक अनौपचारिक बातचीत

उन्होंने कहा, 'अब ठोस आधार तैयार कर लिया गया है. दोनों पक्षों के संयुक्त प्रयासों से राष्ट्रपति शी की भारत यात्रा पूरी तरह सफल होगी और द्विपक्षीय संबंधों की आगे प्रगति की दिशा तय करेगी. इससे दोनों पक्षों के बीच सहयोग के आदान-प्रदान में नयी प्रगति होगी तथा सकारात्मक परिणाम निकलेंगे.'

उन्होंने कहा, 'यह मुलाकात पूरी दुनिया को चीन और भारत का यह सुसंगत संदेश एक बार फिर भेजेगी तथा अनिश्चितता से भरी दुनिया में स्थिरता एवं सकारात्मक ऊर्जा भरेगी.'

लुओ ने कहा कि यह एक अनौपचारिक बातचीत है, इसलिए दोनों नेताओं को बिना किसी निर्धारित विषय के विचारों के मुक्त आदान-प्रदान के लिए सहज माहौल मिलेगा. इस मुलाकात में कोई करार होने की भी संभावना नहीं है.
Loading...

शुक्रवार शाम से मोदी और शी की कई मुलाकातें हो सकती हैं. इनमें अधिकतर में उनके साथ केवल उनके दुभाषिये होंगे. इन बैठकों में दोनों नेता चीन-भारत संबंधों को आगे ले जाने के तरीकों पर चर्चा करेंगे जिनमें खासकर भारत में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त किये जाने के बाद भारत के खिलाफ पाकिस्तान के अभियान को बीजिंग के समर्थन को लेकर विपरीत परिस्थितियां पैदा हो गयी थीं.

दोनों देश द्विपक्षीय संबंधों को सुधारने के अवसर का लाभ उठा सकते हैं
लुओ ने जहां यात्रा को लेकर अत्यंत सकारात्मक टिप्पणी की, वहीं सरकारी स्वामित्व वाले चाइना डेली ने भी आश्चर्यजनक तरीके से गुरुवार को लिखा कि शी की दो दक्षिण एशियाई पड़ोसियों भारत और नेपाल की यात्रा की आधिकारिक घोषणा अनौपचारिक वार्ता से महज 48 घंटे पहले होना इस बात का प्रमाण है कि भारत और चीन के शीर्ष नेताओं के बीच आपसी तालमेल के जरिये दोनों देश द्विपक्षीय संबंधों को सुधारने के अवसर का लाभ उठा सकते हैं.

अखबार ने स्पष्ट रूप से लिखा, 'बीजिंग (Beijing ) और नयी दिल्ली (New Delhi) दोनों ने घोषणा की कि बैठक होगी. उन्होंने पहले चल रही इस अटकल को खारिज कर दिया कि दोनों नेता किसी भी मुलाकात को स्थगित कर देंगे. उन्होंने यह संदेश भेजा है कि वे सकारात्मक साझेदारी के रास्ते में कोई अड़चन नहीं आने देना चाहते.

भारत में चीन के राजदूत स्वन वेइतोंग ने कहा कि 
इस बैठक पर भारत में चीन के राजदूत स्वन वेइतोंग ने गुरुवार को प्रेस वार्ता की. उन्होंने कहा कि मोदी-शी के बीच अनौपचारिक शिखर वार्ता से द्विपक्षीय संबंधों की दिशा में मार्गदर्शक सिद्धांतों समेत कई विषयों पर आम सहमति की उम्मीद.

राजदूत स्वन वेइतोंग ने कहा कि हमें लगता है कि शिखर वार्ता द्विपक्षीय संबंधों को ऊंचे स्तर पर ले जाएगी और क्षेत्रीय तथा वैश्विक शांति और स्थिरता पर इसका बड़ा तथा सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि भारत और चीन के बीच व्यापक सहयोग वैश्विक और आर्थिक वैश्वीकरण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाएगा. राजदूत ने कहा कि चीन और भारत पर संरक्षणवाद तथा एकपक्षीयता के बढ़ते दौर में 'जटिल दुनिया' में सकारात्मक ऊर्जा भरने की जिम्मेदारी है. (भाषा इनुपट के साथ)

यह भी पढ़ें:  मोदी-जिनपिंग की मुलाकातें द्विपक्षीय संबंधों की दरारों को भरने तक सीमित!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 11, 2019, 5:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...