लाइव टीवी

नागरिकता संशोधन कानून : गुवाहाटी में कर्फ्यू में ढील, उत्तर-पूर्व में हिंसक प्रदर्शन के बीच अमेरिका और ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी

News18Hindi
Updated: December 14, 2019, 8:44 AM IST
नागरिकता संशोधन कानून : गुवाहाटी में कर्फ्यू में ढील, उत्तर-पूर्व में हिंसक प्रदर्शन के बीच अमेरिका और ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी
पूर्वोत्तर के राज्यों में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है.

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) बनाए जाने के बाद से नॉर्थ-ईस्ट (North East) के कई इलाकों में हिंसक प्रदर्शन तेज हो गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 14, 2019, 8:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) बनाए जाने के बाद से नॉर्थ ईस्ट (North East) के राज्यों में धीरे-धीरे स्थिति थोड़ी सामान्य होती दिख रही है. गुवाहाटी में लगाए गए कर्फ्यू पर भी ढील दी जा रही है. शनिवार को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक कर्फ्यू पर ढील रहेगी. इससे पहले शुक्रवार को कई जगहों पर हिंसक झड़प भी देखने को मिली. हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए फ्रांस (France), अमेरिका (America) और ब्रिटेन (Britain) ने अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की है. एडवाइजरी में सभी देशों ने अपने नागरिकों को असम न जाने की सलाह दी है. ब्रिटेन ने अपने नागरिकों से कहा है कि अगर उन्हें बहुत जरूरी है तो ही असम का दौरा करें और जाना बेहद जरूरी हो तो काफी सावधानी बरतें.

अमेरिकी विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि भारत द्वारा अपने नागरिकता कानून में संशोधन किए जाने के बाद से वह इस पूरे घटनाक्रम पर करीब से नजर बनाए हुए है. अधिकारी ने कहा कि अमेरिका ने भारत से अनुरोध किया है कि वह अपने संवैधानिक और लोकतांत्रिक मूल्यों को बरकरार रखते हुए धार्मिक अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करे.

गौरतलब है कि नागरिका संशोधन विधेयक के खिलाफ देश के कुछ हिस्सों में विरोध प्रदर्शन तेज हो गया है. पूर्वोत्तर भारत में विशेषकर असम और त्रिपुरा में हिंसक विरोध प्रदर्शन की खबरें हैं. गुवाहाटी में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाया गया है और मोबाइल और इंटरनेस सेवाएं पूरी तरह से निलंबित कर दी गई हैं.

ब्रिटेन ने अपने नागरिकों को सलाह दी है कि जब तक भारत में हालात सामान्य नहीं हो जाते हैं तब तक वह भारत का दौरा करने से बचें. एडवाइजरी में कहा गया है कि वह अगर उन्हें भारत की यात्रा करनी है और पूर्वोत्तर राज्यों में जाना बेहद जरूरी है तो मीडिया में आ रही खबरों पर नजर रखें और स्थानीय अधिकारियों द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें.

इसे भी पढ़ें :- नागरिकता कानून पर संयुक्‍त राष्‍ट्र के मानवाधिकार निकाय ने जताई चिंता, कहा-नया कानून भेदभावपूर्ण

अमेरिका ने भी अपने नागरिकों के लिए जारी की एडवाइजरी
अमेरिकी प्रशासन (America) की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि भारत में बने नए नागरिकता कानून के कारण नॉर्थ ईस्‍ट के राज्‍यों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. सरकार ने कुछ इलाकों में कर्फ्यू भी लगाया है. ऐसे में अमेरिकी सरकार ने असम की आधिकारिक यात्रा को अस्थायी रूप से निलंबित कर दी है. प्रशासन की ओर से कहा गया है कि अमेरिकी नागरिक विदेश यात्रा के दौरान अमेरिकी विदेश विभाग की वेबसाइट चैक करते रहें. वेबसाइट पर विश्‍व के वर्तमान हालात, यात्रा संबंधी चेतावनी, यात्रा अलर्ट और देश विशेष के बारे में जानकारी होती है. इसे वहां से हासिल किया जा सकता है. अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा, ऐसे स्‍थानों से दूर रहें, जहां प्रदर्शन हो रहे हों. अपने आसपास के माहौल को अच्‍छी तरह परख लें. स्‍थानीय मीडिया से हालात के अपडेट लेते रहें. अपने परिवारवालों और नजदीकी लोगों को अपनी जानकारी देते रहें.इसे भी पढ़ें :- नागरिकता कानून: असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल में उग्र प्रदर्शन जारी, दिल्ली-अरुणाचल में भी बवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 8:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर