लाइव टीवी

Citizenship Act 2019: बांग्लादेश ने घुसपैठ के दावों को नकारा, कहा- 'हमारे यहां जीवन स्तर बेहतर, कोई भारत क्यों जाएगा'

News18Hindi
Updated: December 14, 2019, 7:56 AM IST
Citizenship Act 2019: बांग्लादेश ने घुसपैठ के दावों को नकारा, कहा- 'हमारे यहां जीवन स्तर बेहतर, कोई भारत क्यों जाएगा'
पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में विरोध प्रदर्शनों के कारण खराब कानून व्‍यवस्‍था के मद्देनजर गृह मंत्री अमित शाह के बांग्‍लादेशी समकक्ष असदुज्‍जमान खान ने अपनी भारत यात्रा रद्द कर दी है.

नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) के संसद से पारित होने के अगले ही दिन बांग्‍लादेश (Bangladesh) के गृह मंत्री असदुज्‍जमान खान (Asaduzzaman Khan) ने पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में बिगड़ी कानून-व्‍यवस्‍था (law and order) के मद्देनर अपना भारत दौरा रद्द कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 14, 2019, 7:56 AM IST
  • Share this:
सुजीत नाथ

नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) पारित होकर कानून बनने का असर भारत और बांग्‍लादेश (India-Bangladesh) के द्विपक्षीय संबंधों (Bilateral Relations) पर भी पड़ता नजर आ रहा है. बांग्‍लादेश ने दोहराया है कि 1971 के बाद उनका एक भी नागरिक अवैध तरीके से भारत नहीं गया है. वहीं, गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) बार-बार कहते रहे हैं कि पड़ोसी देशों के घुसपैठियों (Infiltrators) को भारत से निकाला जाएगा. संसद से बिल पारित होने के बाद पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में विरोध प्रदर्शनों के कारण खराब हुई कानून व्‍यवस्‍था के मद्देनजर बांग्‍लादेश के गृह मंत्री असदुज्‍जमान खान (Asaduzzaman Khan) और विदेश मंत्री एके अब्‍दुल मोमिन (AK Abdul Momen) ने अपना-अपना भारत दौरा रद्द कर दिया.

खान ने कहा - हालात समान्‍य होने पर फिर बनाएंगे कार्यक्रम
असदुज्‍जमान खान ने News18 से कहा कि उन्‍होंने पूर्वोत्‍तर में कानून-व्‍यवस्‍था (law and order) के खराब हालात के कारण शिलॉन्‍ग यात्रा रद्द की है. इस समय पूर्वोत्‍तर (Northeast) राज्‍यों में भारत यात्रा के लिए माकूल माहौल नहीं है. हालात सामान्‍य होने के बाद फिर से भारत यात्रा का कार्यक्रम तैयार किया जाएगा. बांग्‍लादेश का नागरिकता संशोधन कानून 2019 से कोई लेनादेना नहीं है. ये पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है. हमें उम्‍मीद है कि भारत ऐसा कोई काम नहीं करेगा, जिससे दोनों देशों के संबंधों में कोई खलल पैदा हो. साथ ही उन्‍होंने कहा कि बांग्‍लादेश की ओर से अवैध घुसपैठ की बात पूरी तरह से गलत है.

'सरासर गलत है बांग्‍लादेशी नागरिकों की घुसपैठ की बात'
खान ने कहा, 'यह हमारा सौभाग्‍य है कि बांग्‍लादेश बनने से लेकर अब तक भारत हर हाल में हमारे साथ रहा है. मैं विश्‍वास और पूरी जिम्‍मेदारी के साथ कह रहा हूं कि 1971 के बाद बांग्‍लादेश का एक भी नागरिक अवैध तरीके से भारत में नहीं घुसा है. मुझे उम्‍मीद है कि भारत सरकार शरणार्थियों को बांग्‍लादेश की ओर नहीं धकेलेगी.' उन्‍होंने कहा कि पिछले सात-आठ साल में बांग्‍लादेश से बड़ी संख्‍या में लोगों के भारत में अवैध तरीके से घुसने की बात सरासर गलत है. हां, ये सही है कि पाकिस्‍तान से युद्ध (Liberation War) से पहले कुछ हिंदू भारत गए थे, लेकिन कोई मुस्लिम बांग्‍लादेश बनने के बाद घुसपैठ कर भारत नहीं गया.

'हम भारत को कारोबार दे रहे हैं और वे आरोप लगा रहे हैं'बांग्‍लादेश के गृह मंत्री ने कहा कि हम गरीब देश में नहीं रहते हैं. वित्‍त वर्ष 2018-19 में हमारी इकोनॉमिक ग्रोथ (Economic Growth) 8.15 फीसदी रही है. हमारी मौजूदा जीडीपी (GDP) ग्रोथ 8.13 फीसदी है और हमारी प्रति व्‍यक्ति आय (Per Capita Income) 2000 डॉलर है. आप खुद ही बताइए कि कोई भी व्‍यक्ति अवैध तरीके से बांग्‍लादेश छोड़कर भारत में घुसपैठ क्‍यों करेगा? हम भारत को पर्यटन, इलाज और शिक्षा के मामले में बड़ा कारोबार दे रहे हैं. ये सब बांग्‍लादेश की बेतरीन इकोनॉमिक ग्रोथ के कारण ही संभव है. हम भारत को कारोबार दे रहे हैं और वे हम पर बेहतर जीवन के लिए अवैध तरीके से घुसपैछ का आरोप लगा रहे हैं. मुझे लगता है कि कुछ लोग दोनों देशों के संबंध बिगाड़ने की साजिश कर रहा है.

(पूरा इंटरव्‍यू अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.)

ये भी पढ़ें:

अमित शाह का शिलॉन्‍ग दौरा रद्द, फ्रांस ने अपने नागरिकों के लिए जारी की सलाह

नागरिकता कानून पर उबाल, असम के हालात संभालने को सेना के 26 कॉलम तैनात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2019, 6:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर