लाइव टीवी

CJI गोगोई के नेतृत्व वाली पीठ अगले हफ्ते चार महत्वपूर्ण मामलों में सुनाएगी फैसला

News18Hindi
Updated: November 10, 2019, 5:14 AM IST
CJI गोगोई के नेतृत्व वाली पीठ अगले हफ्ते चार महत्वपूर्ण मामलों में सुनाएगी फैसला
सीजेआई गोगोई ने शनिवार को अयोध्या से जुड़ा फैसला सुनाया.

CJI Ranjan Gogoi की अगुवाई वाली पीठ एक अन्य राजनीतिक संवेदनशील मामले में अपना फैसला सुनाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2019, 5:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अयोध्या (Ayodhya) भूमि विवाद मामले पर ऐतिहासिक फैसले के बाद सुप्रीम कोर्ट (Suprme Court) के चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi) के नेतृत्व वाली पीठ एक हफ्ते के भीतर चार अन्य महत्वपूर्ण मामलों पर फैसला सुनाएगी.

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया गोगोई 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं. पीठ राजनीतिक रूप से संवेदनशील एक अन्य मामले में फैसला सुनाएगी. इसमें 14 दिसंबर 2018 के फैसले पर पुनर्विचार की मांग की गयी है, जिसके तहत मोदी सरकार को राफेल लड़ाकू विमान (Rafale) की खरीदारी में क्लीन चिट दे दी गयी थी.

उनकी पीठ एक अन्य याचिका पर अपना निर्णय सुनाएगी, जिसमें राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘चौकीदार चोर है’ संबंधी टिप्पणी के खिलाफ कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर अवमानना कार्रवाई की मांग की गयी है. इसके अलावा जस्टिस गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ केरल में सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने के शीर्ष न्यायालय के फैसले पर पुनर्विचार को लेकर याचिकाओं पर अपना फैसला सुनाएगी.

अप्रैल में इस संबंध में याचिकाओं पर सुनवाई पूरी कर ली थी

सूचना का अधिकार कानून के दायरे में चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया का पद आता है या नहीं इस संबंध में भी फैसला आना है. जस्टिस गोगोई की पीठ ने चार अप्रैल को इस संबंध में याचिकाओं पर सुनवाई पूरी कर ली थी.

राफेल मामले में शीर्ष अदालत पूर्व केंद्रीय मंत्रियों- यशवंत सिन्हा और अरूण शौरी तथा कार्यकर्ता-वकील प्रशांत भूषण समेत कुछ अन्य की अर्जी पर सुनवाई करेगी. इन याचिकाओं में पिछले साल के 14 दिसंबर के फैसले पर पुनर्विचार की मांग की गयी है जिसमें फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट से 36 लड़ाकू विमान खरीदने के केंद्र के राफेल सौदे को क्लीन चिट दी गयी थी .

यह भी पढ़ें: रामलला विराजमान को दी गई विवादित भूमि, सुन्नी वक्फ बोर्ड को दूसरी जगह 5 एकड़ जमीन- सुप्रीम कोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 10, 2019, 5:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...