कानून की पढ़ाई करने वाले गरीबों की मदद के लिए करें ज्ञान का इस्तेमाल: CJI मिश्रा

भारत के प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने विधि छात्रों को गरीब लोगोें के लिए अपने ज्ञान का प्रयोग करने की सलाह दी है.

भाषा
Updated: September 16, 2018, 9:33 PM IST
कानून की पढ़ाई करने वाले गरीबों की मदद के लिए करें ज्ञान का इस्तेमाल: CJI मिश्रा
चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा. (PTI Photo/Arun Sharma)
भाषा
Updated: September 16, 2018, 9:33 PM IST
भारत के प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने विधि छात्रों को गरीबों की मदद की सलाह दी है. रविवार को कानून में स्नातक कर रहे छात्रों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए अपने ज्ञान और कौशल का इस्तेमाल करें.

बेंगलुरू के भारतीय राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के 26वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में अपने अध्यक्षीय भाषण में उन्होंने सुनवाई के समय उन्हें नहीं झुकने के लिए कहा. न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा, ‘यह ध्यान में रखना चाहिए कि जो लोग अपनी ज्ञान पूंजी, कौशल और क्षमता का इस्तेमाल गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए नहीं कर सकते हैं, वे अपने भीतर संतोष और शांति का सृजन नहीं कर पायेंगे.'

यह भी पढ़ें: महाभियोग मामला: प्रशांत भूषण ने डाली RTI, पूछा- किसने गठित की संविधान बेंच

उन्होंने कहा कि, कानूनी प्रणाली में योगदान के लिए एक रचनात्मक दृष्टिकोण और सकारात्मक मानसिकता होना आद के समय की जरूरत है.  न्यायमूर्ति मिश्रा ने छात्रों से आक्रामक वकालत में शामिल होने के बजाय उचित नैतिकता बनाए रखते हुए तथ्यों, कानून और तर्क पर ध्यान केंद्रित करने का भी आग्रह किया.

यह भी पढ़ें: CJI के खिलाफ महाभियोग पर फैसला जल्द! कानूनी विशेषज्ञों से मिले वेंकैया नायडू
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर