एयर मार्शल ने किया पीएम मोदी का समर्थन, कहा- रडार से छिपने में मदद करते हैं बादल

बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर की गई एयरस्ट्राइक पर पीएम नरेंद्र मोदी के रडार वाले बयान पर एयर मार्शल रघुनाथ नाम्बियार ने टिप्पणी की है.

News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 2:19 PM IST
एयर मार्शल ने किया पीएम मोदी का समर्थन, कहा- रडार से छिपने में मदद करते हैं बादल
एयर मार्शल रघुनाथ नाम्बियार की फाइल फोटो (क्रेडिट-एएनआई)
News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 2:19 PM IST
बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक पर पीएम नरेंद्र मोदी के रडार वाले बयान पर एयर मार्शल रघुनाथ नाम्बियार ने टिप्पणी की है. नाम्बियार ने कहा है कि बहुत ज़्यादा बादल होते हैं, तो वह रडार को डिटेक्ट होने से बचाते हैं.

वेस्टर्न एयर कमांड के कमांडिंग इन चीफ रघुनाथ नाम्बियार ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि जब आसमान में घने बादल होते हैं या घने बादल होने की स्थिति बनती है. ऐसे में रडार कुछ हद तक बिल्कुल सही डिटेक्ट नहीं हो पाते हैं. एयर मार्शल ने यह जवाब थल सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के इस संबंध में दिए गए एक बयान के बाद दिया है.



थल सेना अध्यक्ष ने कही थी ये बात

थल सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने प्रधानमंत्री मोदी की रडार वाली टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर कहा कि कुछ रडार अपने काम करने के तरीके के कारण बादलों के पार नहीं देख पाते.

उन्होंने कहा, 'अलग-अलग टेक्नोलॉजी से काम करने वाले विभिन्न प्रकार के रडार हैं. कुछ में बादलों के पार देखने की क्षमता होती है, जबकि कुछ में ऐसी क्षमता नहीं होती. कुछ रडार अपने काम करने के तरीके की वजह से बादलों के पार नहीं देख पाते. कभी-कभी ऐसा हो सकता है, कभी-कभी नहीं हो सकता.'

यहां से शुरू हुआ था पूरा मामला

बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल में एक टीवी इंटरव्यू में कहा था कि खराब मौसम के कारण जब कुछ रक्षा विशेषज्ञ उन्हें बालाकोट हमले की तारीख टालने को कह रहे थे, तो उन्होंने अपनी थोड़ी-बहुत समझ के आधार पर 26 फरवरी को ही हमला करने को कहा, ताकि पाकिस्तान के रडार भारतीय विमानों की गतिविधियां पकड़ नहीं पाएं.
Loading...

Nehru Death Anniversary: भारत विभाजन के लिए क्यों तैयार हो गए थे नेहरू, देखें इंटरव्यू

नवंबर 2020 तक NDA को मिल जाएगा राज्यसभा में पूर्ण बहुमत

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...