उत्तराखंड के जंगलों में आग पर CM रावत ने बुलाई आपात बैठक, गृह मंत्री अमित शाह ने NDRF को दिए निर्देश

सीएम तीरथ सिंह रावत ने जंगलों में आग को लेकर आपात बैठक बुलाई है.  (फाइल फोटो)

सीएम तीरथ सिंह रावत ने जंगलों में आग को लेकर आपात बैठक बुलाई है. (फाइल फोटो)

उत्तराखंड के जंगलों में बेकाबू हो रही आग को लेकर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से की बातचीत. गृह मंत्री ने एनडीआरएफ को जरूरी कार्रवाई करने के दिए निर्देश.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड के जंगलों में लगातार फैल रही आग के विकराल रूप से सरकार की चिंताएं बढ़ गई हैं. मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने इसको लेकर आज एक आपात बैठक बुलाई है. सीएम ने सोशल मीडिया के जरिए इस बैठक के बारे में जानकारी भी दी. साथ ही यह भी बताया कि उन्होंने जंगलों में आग को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी बात की है. सीएम रावत ने ट्वीट के जरिए जानकारी दी कि वनाग्नि की घटनाओं की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारियों, वन विभाग, आपदा प्रबंधन विभाग और सभी ज़िलाधिकारियों की आपातकालीन मीटिंग बुलाई है.

आपको बता दें कि उत्तराखंड के जंगलों में गढ़वाल से लेकर कुमाऊं तक के इलाके आग ने तांडव मचाया हुआ है. आग रोकने के लिए राज्य सरकार तमाम इंतजाम करने में जुटी है. मुख्यमंत्री ने इसको लेकर ही आपात बैठक बुलाई, साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री से बात कर उन्हें हालात की जानकारी दी है. सीएम रावत ने इस बाबत ट्वीट कर बताया कि वनों की आग से न सिर्फ वन संपदा की हानि हो रही है, बल्कि वन्य जीवों और आम लोगों को भी नुकसान हुआ है.

ये भी पढ़ें- जंगलों में आग से खतरे में पर्यावरण और वन्यप्राणी, चौकन्ना रहने का वक्त

सरकार ने आग बुझाने के लिए भारतीय वायुसेना की मदद लेने का फैसला किया है. एयरफोर्स ने सरकार के अनुरोध पर दो हेलिकॉप्टर देने की मंजूरी दी है. इससे पहले मुख्य वन संरक्षक, फॉरेस्ट फायर मान सिंह ने बताया था कि आग को देखते हुए हेलिकॉप्टर कहां उतारा जाए, विभाग इसकी योजना बना रहा है. ये चॉपर कहां से पानी लेंगे और जल्दी से जल्दी आग कैसे बुझाई जाए, इसको लेकर तमाम प्रयास किए जा रहे हैं.
Fire in forests जंगल में आग, Uttarakhand Forest fire news उत्तराखंड के जंगलों में आग, Dehradun News देहरादून हिंदी न्यूज अपडेट,
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने टि्वटर के जरिए दी जानकारी.


वन विभाग के मुताबिक प्रदेश में अभी तक 1300 हेक्टेयर में फैले जंगलों में आग लग चुकी है. इसकी वजह से वन्यप्राणियों और पर्यावरण को भारी नुकसान पहुंचा है. प्रदेश के 4 पहाड़ी जिले इस आग की चपेट में हैं. पौड़ी जिले में जहां 338 हेक्टेयर में जंगल में आग लगी है, वहीं अल्मोड़ा के 163 हेक्टेयर में फैले जंगल आग की जद में हैं. पिथौरागढ़ में 153 हेक्टेयर और बागेश्वर में अगलगी की 91 घटनाओं में 125 हेक्टेयर में फैला जंगल आग की भेंट चढ़ चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज