होम /न्यूज /राष्ट्र /Exclusive: फिदायीन हमला था कोयंबटूर में मंदिर के पास हुआ धमाका- News18 से बोले खुफिया सूत्र

Exclusive: फिदायीन हमला था कोयंबटूर में मंदिर के पास हुआ धमाका- News18 से बोले खुफिया सूत्र

कोयंबटूर में रविवार को हुए एक सिलेंडर विस्फोट में जमेशा मुबीन नामकर व्यक्ति की मौत हो गई थी. (फोटो- News18)

कोयंबटूर में रविवार को हुए एक सिलेंडर विस्फोट में जमेशा मुबीन नामकर व्यक्ति की मौत हो गई थी. (फोटो- News18)

अधिकारियों ने कहा कि शुरुआत से ही आशंका थी कि यह आत्मघाती धमाका हो सकता है. वह यहां तड़के 4 बजे ही पहुंच गया था, ताकि स ...अधिक पढ़ें

कोयंबटूर. तमिलनाडु के कोयंबटूर में हुआ धमाका निश्चित रूप से आतंकी घटना थी.  शीर्ष खुफिया सूत्रों ने सोमवार को सीएनएन-न्यूज18 को यह जानकारी दी. दरअसल रविवार को यहां एक सिलेंडर विस्फोट में जमेशा मुबीन नामकर व्यक्ति की मौत हो गई थी. उसके घर की छानबीन करने पर पुलिस को वहां से पोटैशियम नाइट्रेट और सल्फर जैसी विस्फोटक सामग्री मिली थी.

सूत्रों ने बताया कि मुबीन ने अपने मोबाइल फोन की डिस्प्ले तस्वीर पर लिखा था कि ‘अगर मेरी मौत की खबर आप तक पहुंचती है तो मेरी गलतियों को माफ कर देना, मेरी कमियों को छिपाना और जनाज़े में जरूर भाग लेकर मेरे लिए दुआ करना’. सूत्रों के मुताबिक, उसका इस मैजेस से आत्मघाती मिशन के संकेत मिलते हैं.

ISIS मॉड्यूल पर शक
अधिकारियों ने बताया कि श्रीलंका में वर्ष 2019 में ईस्टर पर्व के मौके पर हुए धमाकों के बाद इस्लामिक स्टेट (ISIS) के साथ संबंधों के शक में गिरफ्तार किए गए कोयंबटूर निवासी मोहम्मद अजहरुद्दीन के आठ सहयोगियों को पूछताछ के लिए उठाया गया था. उनकी पहचान उमर फारूक, रज्जाक, किबला बशीर, अपराधी किचन बुहारी के बहनोई और सनोफर के सद्दाम हुसैन नाम के तीन लोगों के रूप में हैं.

सूत्रों ने बताया कि उमर फारूक ने अपने फोन को फॉर्मेट कर दिया है. उन्होंने कहा कि अजहर से पूछताछ के दौरान मुबीन का नाम भले नहीं आया, लेकिन वह अजहरुद्दीन मॉड्यूल का हिस्सा है.

अधिकारियों ने बताया कि मुबीन द्वारा सिलेंडर लोड करने का सीसीटीवी फुटेज मिला है और उसके सहयोगियों की पहचान करने के लिए पूछताछ की जा रही है.

कोट्टई ईश्वरन मंदिर के ठीक सामने हुआ था धमाका
बता दें कि कोयंबटूर के उक्कदम इलाके में कोट्टई ईश्वरन मंदिर के ठीक सामने तड़के करीब 4 बजे एक मारुति कार में धमाका हुआ. वहां से दो गैस सिलेंडर, कंचे और कीलें मिली हैं. इस धमाका में कार सवार एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. वहीं मंदिर के सामने की एस्बेस्टस शीट क्षतिग्रस्त हो गई. हालांकि इसमें कोई अन्य घायल नहीं हुआ.

पुलिस जांच में मुबीन की पहचान इस विस्फोट के लिए जिम्मेदार व्यक्ति के रूप में हुई. वह पेशे से कबाड़ डीलर है और सीसीटीवी फुटेज में उसे सिलेंडर लोड करते देखा गया.

अधिकारियों ने कहा कि यह आईएसआईएस का कट्टरपंथी समूह है, जो पहले लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा था. उन्होंने कहा कि शुरुआत से ही आशंका थी कि यह आत्मघाती धमाका हो सकता है. वह यहां तड़के 4 बजे ही पहुंच गया था, ताकि सुबह मंदिर में सबसे ज्यादा भीड़ होने पर धमाका करके भारी नुकसान पहुंचाया जा सके हैं, लेकिन सर्किट फिक्सिंग के दौरान इसमें धमाका हो गया और उसकी प्लानिंग फेल हो गई. यह मामला अब एनआईए के पास जा सकता है.

Tags: Tamilnadu news, Terror Attack

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें