लाइव टीवी

बंगाल BJP प्रमुख बोले- सत्ता में आने के बाद पब्लिक प्रॉपर्टी का नुकसान करने वालों को मार देंगे गोली

भाषा
Updated: January 19, 2020, 11:48 PM IST
बंगाल BJP प्रमुख बोले- सत्ता में आने के बाद पब्लिक प्रॉपर्टी का नुकसान करने वालों को मार देंगे गोली
पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष की फाइल फोटो

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के उत्तर 24 परगना जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए दिलीप घोष (DIlip Ghosh) ने कहा जो लोग संशोधित नागरिकता कानून (CAA) का विरोध कर रहे हैं, वह बंगाल विरोधी हैं और भारत के विचार के खिलाफ हैं.

  • Share this:
बारासात. भारतीय जनता पार्टी (BJP) की पश्चिम बंगाल इकाई (West Bengal) के अध्यक्ष दिलीप घोष ने रविवार को कहा कि सरकार प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) पूरे देश में लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है और राज्य में अवैध रूप से रह रहे एक करोड़ बांग्लादेशी मुसलमानों को वापस भेजेंगे.

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के उत्तर 24 परगना जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए घोष ने कहा जो लोग संशोधित नागरिकता कानून (CAA) का विरोध कर रहे हैं, वह बंगाल विरोधी हैं और भारत के विचार के खिलाफ हैं.

'1 करोड़ अवैध मुस्लिम सरकार से 2 रुपये प्रति किलो चावल ले रहे'
उन्होंने कहा कि राज्य में एक करोड़ अवैध मुस्लिम (Illegal Muslims) सरकार से दो रुपये प्रति किलो चावल योजना का लाभ ले रहे हैं. घोष ने ऐलान किया, ‘‘हमलोग उन्हें वापस भेजेंगे.’’

इस कानून का विरोध करने वालों पर बरसते हुए घोष ने पूछा, ‘‘आप ऐसे व्यवहार क्यों कर रहे हैं, आप संशोधित नागरिकता कानून और राष्ट्रीय नागरिक पंजी को रोकने का प्रयास क्यों कर रहे हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमलोग राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के लिए प्रतिबद्ध हैं. हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि संशोधित नागरिकता कानून का कार्यान्वयन पश्चिम बंगाल में हो.’’

'आगजनी में 500 से 600 करोड़ का नुकसान हुआ'
तृणमूल कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर बरसते हुए घोष ने कहा कि जब ‘‘लुंगी पहने रोहिंग्याओं’’ ने तीन दिन तक रेलवे स्टेशनों (Railway Stations) और अन्य सार्वजनिक संपत्तियों को आग लगायी, तो उन्होंने कुछ नहीं बोला.’’संशोधित नागरिकता कानून पर पिछले साल दिसंबर में राज्य में हिंसक प्रदर्शन का हवाला देते हुए भाजपा सांसद ने कहा, ‘‘ऐसी आगजनी में 500 से 600 करोड़ का नुकसान हुआ है. दिलीप घोष ने कहा कि जब हम सरकार में आएंगे तो ऐसे लोगों की पहचान करके उन्हें गोली मार दी जाएगी. किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा.

भाजपा नेता ने कहा कि धार्मिक उत्पीड़न के बाद जीवन बचाने के लिए यहां आने वाले हिंदू शरणार्थियों का समर्थन करने के लिए उन्हें अगर कोई सांप्रदायिक कहता है तो उन्हें इससे कोई परेशानी नहीं होगी.



'जो लोग CAA का विरोध कर रहे , वो या तो भारत विरोधी या बंगाली विरोधी'
घोष ने कहा, ‘‘जो लोग संशोधित नागरिकता कानून (CAA) का विरोध कर रहे हैं वे या तो भारत विरोधी हैं अथवा बंगाली विरोधी हैं. वे भारत के विचार के खिलाफ हैं और यही कारण है कि वह हिंदू शरणार्थियों को नागरिकता दिये जाने का विरोध कर रहे हैं.’’

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) पहला ऐसा दल है जिसने सत्ता में आने के बाद शरणार्थियों को नागरिकता देने के बारे में सोचा जबकि अन्य सभी दलों ने उनका इस्तेमाल वोट बैंक के रूप में किया.

विरोध करने वाले लोग परजीवी, 'उनका दिल घुसपैठियों के लिए रोता है'
संशोधित नागरिकता कानून एवं प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) का विरोध करने वालों पर हमला बोलते हुए घोष ने कहा, ‘‘उनका दिल घुसपैठियों के लिए रोता है.’’

घोष ने विरोध करने वाले प्रमुख लोगों को ‘‘परजीवी’’ करार देने के एक दिन बाद कहा, ‘‘हिंदू शरणार्थियों का क्या. उनके पास कोई उत्तर नहीं है. यह दोहरा रवैया है.’’

2021 विधानसभा में 50 सीटों पर ही सिमट जाएगी बीजेपी
पश्चिम बंगाल में भाजपा के अगली सरकार सरकार बनाने का विश्वस प्रकट करते हुए घोष ने कहा 2021 के विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की पार्टी 50 सीटों पर सिमट जाएगी.

घोष की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी स्वप्न लोक में रह रही है.

तृणमूल महासचिव ने कहा, ‘‘उन्हें अबतक यह समझ नहीं आयी है कि देश की जनता ने नरेंद्र मोदी-अमित शाह (Amit Shah) की पार्टी की तरफ से मुंह फेर लिया है.’’

यह भी पढ़ें: शेख हसीना ने CAA-NRC को बताया गैरजरूरी, कहा- फिर भी यह भारत का ‘आंतरिक मामला’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2020, 11:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर