CBI Director को लेकर PM के आवास पर चल रही बैठक खत्म, इनमें से एक नाम पर लग सकती है मुहर

सीबीआई डायरेक्टर के चयन के लिए बैठक.

सीबीआई के नए निदेशक का नाम तय करने के लिए पीएम मोदी की अध्यक्षता में चल रही उच्च स्तरीय बैठक खत्म हो गई है. फरवरी से खाली पड़े सीबीआई डायरेक्टर के पद पर जल्द ही नए निदेशक के नाम की घोषणा हो सकती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (central bureau of investigation) यानि CBI के अगले निदेशक का चयन करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली समिति के सदस्यों की बैठक खत्म हो गई है. इस समिति में प्रधानमंत्री के अलावा विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी और चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) एनवी रमना भी शामिल हैं. सीबीआई प्रमुख के इस पद के लिए देश के सीनियर आईपीएस अधिकारियों के नाम पर विचार-विमर्श हुआ है. फिलहाल सीजेआई बैठक के बाद रवाना हो चुके हैं. सूत्रों के मुताबिक बैठक के आखिर में 3 नामों पर चर्चा हुई है, जिनमें से एक अगले सीबीआई डायरेक्टर हो सकते हैं. फरवरी से ही ये पद खाली है और कई अधिकारियों का नाम इस पद की रेस में शामिल है.

    इनमें से एक नाम हो सकता है फाइनल 
    जिन अधिकारियों का नाम CBI निदेशक की दौड़ में चल रहा है, उनमें से ज्यादातर डीजी और डीजीपी रैंक के आईपीएस ऑफिसर हैं. यूं तो करीब 100 नामों पर चर्चा हुई. लेकिन जिन 3 नामों को सबसे ज्यादा संभावित माना जा रहा है, वे इस तरह हैं - एच सी अवस्थी (UP, DGP) , आर के चंद्रा (SSB के DG) और  वीएसके कौमुदी (विशेष सचिव, आंतरिक सुरक्षा).

    सीबीआई डायरेक्टर (CBI Director) के चयन के लिए 1984 से लेकर 1987 की बैच के आईपीएस ऑफिसर्स के नाम पर विचार होना था. यूं तो इस रेंज में करीब 100 आईपीएस अफसरों के नाम हैं, लेकिन आखिरी दौर तक इन्हीं तीन नामों पर चर्चा हुई.

    फिलहाल 1988 बैच के गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी प्रवीण सिन्हा सीबीआई के कार्यवाहक प्रमुख का कार्यभार संभाल रहे हैं. सीबीआई के डिप्टी चीफ राकेश अस्थाना के साथ हुए विवाद के बाद सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा को हटा दिया गया था. इसके बाद ऋषि कुमार शुक्ला को सीबीआई का निदेशक बनाया गया था. वो सीबीआई डायरेक्टर के रूप में अपना दो साल का कार्यकाल फरवरी में पूरा कर रिटायर हो चुके हैं