कंप्यूटर की तरह तेज गणना में माहिर बच्चों की खोज के लिए हुई प्रतियोगिता

दिल्ली के गोल मार्केट स्थित सेंट कोलंबस में 5-13 साल की उम्र के बच्चों ने यूसीमास की ओर से आयोजित प्रतियोगिता में अबेकस के जरिये नामुमकिन सा दिखने वाली गणना करके दिखाई.

भाषा
Updated: April 17, 2018, 7:16 PM IST
कंप्यूटर की तरह तेज गणना में माहिर बच्चों की खोज के लिए हुई प्रतियोगिता
दिल्ली के गोल मार्केट स्थित सेंट कोलंबस में 5-13 साल की उम्र के बच्चों ने यूसीमास की ओर से आयोजित प्रतियोगिता में अबेकस के जरिये नामुमकिन सा दिखने वाली गणना करके दिखाई.
भाषा
Updated: April 17, 2018, 7:16 PM IST
दो दूनी चार तो सबने खूब सुना होगा, लेकिन कोई एक सांस में 873 का पहाड़ा सुना दे, 7,347 का पहाड़ा सुना दे, 67836743 +168288+3789623 - 27856356 x 321 जैसे 100 अंकों तक की गणना दो सेकंड मे बता दे तो आप पलक तक नहीं झपका पाएंगे. अपनी आंखों पर भरोसा नहीं होगा.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के गोल मार्केट स्थित सेंट कोलंबस में 5-13 साल की उम्र के बच्चों ने यूसीमास की ओर से आयोजित प्रतियोगिता में अबेकस के जरिये नामुमकिन सा दिखने वाला ये कारनामा कर दिखाया. इस प्रतियोगिता में दिल्ली के अलग-अलग स्कूलों से आये 3,000 से ज्यादा बच्चों ने हिस्सा लिया.

यूसीमास दिल्ली प्रतियोगिता के 13वें संस्करण के आयोजक राजीव गर्ग ने कहा, ‘‘बच्चों की दिमागी क्षमता को निखारने की प्रक्रिया 5 साल से शुरू हो जाती है, इस उम्र मे इनके सीखने की प्रक्रिया बहुत तेज होती है. यूसीमास अबेकस पद्धति से बच्चों की गणना क्षमता बेहतर होती है और वे कठिन गणना को कुछ ही सेकंड में हल कर देते हैं.’’

सीनियर और जूनियर वर्ग की इस प्रतियोगिता के दो चरण थे लिखित और मौखिक. लिखित परीक्षा का परिणाम 23 तारीख को घोषित किया जाएगा. मौखिक राउंड के ​​सीनियर वर्ग के विजेता दिल्ली के हर्षित सिंह रहे जबकि पहले उपविजेता अनीश रॉय चौधरी और दूसरे उपविजेता छवि गोयल रहीं.

जूनियर राउंड की विजेता न्यासा राजपूत, पहली उपविजेता पर्व जैन और दूसरे उप विजेता सक्षम मिगलानी रहे. विजेता को 5,100 रुपये नकद एवं ट्रॉफी, पहले उपविजेता को 3,100 रुपये नकद एवं ट्रॉफी, दूसरे उपविजेता को 2,100 रुपये नकद और ट्रॉफी दी गयी. इसके अलावा आठ अन्य विजेताओं को भी ट्रॉफी दी गयी.

ये भी पढ़ेंः


CBSE लीक: 10वीं की स्टूडेंट को मैथ्‍स एग्जाम में मिला था 2 साल पुराना पेपर
कानपुर की 'कैलकुलेटर गर्ल' है दिलप्रीत, 9 वर्ल्ड रिकॉर्ड कर चुकी है अपने नाम
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर