Assembly Banner 2021

कांग्रेस ने पुडुचेरी चुनावों के लिए किया उम्मीदवारों का ऐलान, पूर्व CM नारायणसामी नहीं लड़ेंगे चुनाव

पुडुचेरी के पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (File Photo)

पुडुचेरी के पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (File Photo)

Puducherry Assembly Elections: पुडुचेरी में ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के इंचार्ज दिनेश गुंडु राव ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी 2021 विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. वह चुनावी अभियान और चुनाव प्रबंधन की जिम्मेदारी संभालेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 16, 2021, 11:25 PM IST
  • Share this:
पुडुचेरी. कांग्रेस ने पुडुचेरी विधानसभा चुनावों (Puducherry Assembly Elections) के लिए उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है. 14 नामों वाली कांग्रेस की इस सूची में केंद्र शासित प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (V Narayansamy) का नाम नहीं है. पुडुचेरी में ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के इंचार्ज दिनेश गुंडु राव ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी 2021 विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. वह चुनावी अभियान और चुनाव प्रबंधन की जिम्मेदारी संभालेंगे.

कांग्रेस ने पुडुचेरी की ओस्सुडु सीट से कार्तिकेयन, कार्दिगमम सीट से पी सेल्वान्दने, इंदिरा नगर से एम कन्नन, कामराज नगर से एमओएचएफ शाहजहां, लाव्सपेट से एम वैतीअनंतन, मुथिअलपेट से एस सेंथिल कुमारन, अरियनकुप्पम से टी डीजेईमूर्ति, मनावेली से आरकेआर अनंतरमन, एंबलम से एम कंडासामी, नेट्टापक्कम से श्रीमति वी विजयावेणी, नेडुंगाडु़ से ए मरिमुथु, थिरुनल्लर से आर कमलाकन्नन, करईकल उत्तर से ए वी सुब्रमण्यन, और माहे से रमेश प्रेमबाथ को टिकट दिया है.

ये भी पढ़ें- बंगाल बीजेपी में टिकट बंटवारे पर रार, पार्टी ने नेताओं को तत्काल दिल्ली बुलाया



बता दें कि पिछले माह कई विधायकों के पार्टी छोड़ने के बाद वी नारायणसामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी जिसके बाद नारायणसामी विधासभा में फ्लोर टेस्ट पास नहीं कर सके और उन्होंने और उनकी कैबिनेट के मंत्रियों मे उप राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया था.
सीट बंटवारे को लेकर बैठक में हुआ था हंगामा
इससे पहले कांग्रेस की सीट के बंटवारे को लेकर रविवार को हुई बैठक में हंगामे की भी खबरें सामने आई थीं. पुडुचेरी में छह अप्रैल के विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों के नाम तय करने के वास्ते प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यालय में आयोजित बैठक के दौरान तब हंगामा हुआ जब पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं ने ‘प्रमुख’ सीटें द्रमुक को आवंटित किये जाने का विरोध किया. चयन समिति की बैठक में कुछ देर के लिए शोर-शराबा देखा गया और पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने असंतुष्ट कार्यकर्ताओं को शांत करने के लिए हस्तक्षेप किया.

ये भी पढ़ें- शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में सब ठीक, देश में तीसरा मोर्चा बनाने की जरूरत

दिग्विजय सिंह, पल्लम राजू, संजय दत्त और दिनेश गुंडू राव सहित अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के एक प्रतिनिधिमंडल को स्थानीय नेताओं के साथ चर्चा करने और पार्टी के उम्मीदवारों की सूची तैयार करने के लिए आलाकमान द्वारा प्रतिनियुक्त किया गया था.

कांग्रेस को 15 सीटें जबकि उसके सहयोगी दल द्रमुक को 13 सीटें आवंटित की गई हैं.

मंगलम, तिरुभूवनई और मन्नादीपेट निर्वाचन क्षेत्रों से पार्टी कार्यकर्ताओं ने इन सीटों को द्रमुक को दिये जाने के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया जो सेक्युलर डेमोक्रेटिक अलायंस का घटक है. ये कार्यकर्ता 2016 में हुए पिछले चुनाव की तुलना में इस बार कांग्रेस को छह सीटें कम दिए जाने का भी विरोध कर रहे थे. (भाषा के इनपुट सहित)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज