Assembly Banner 2021

पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए कांग्रेस ने कमर कसी, 28 पर्यवेक्षक नियुक्‍त

कांग्रेस समिति (एआईसीसी) ने चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल के लिए 28 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की.(सांकेतिक तस्वीर)

कांग्रेस समिति (एआईसीसी) ने चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल के लिए 28 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की.(सांकेतिक तस्वीर)

पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होंगे. कांग्रेस ने इसके लिए 28 पर्यवेक्षकों को नियुक्‍त किया है. कांग्रेस, चुनाव वाम दलों के साथ मिलकर लड़ रही है. इस महीने के अंत तक उनके बीच सीट बंटवारे पर समझौते को अंतिम रूप दे दिया जाएगा. दोनों दलों के वरिष्ठ नेताओं के बीच सीट बंटवारे पर समझौता के लिए बैठक हो चुकी है.

  • Share this:
कोलकाता. अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआईसीसी) ने चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल (West Bengal elections) के लिए 28 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने सोमवार को इस बारे में बताया. राज्य में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होंगे. कांग्रेस, चुनाव वाम दलों के साथ मिलकर लड़ रही है.  इस महीने के अंत तक उनके बीच सीट बंटवारे पर समझौते को अंतिम रूप दे दिया जाएगा.

उन्‍होंने बताया कि गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार और झारखंड जैसे राज्यों के कांग्रेस नेताओं को 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के आठ चरणों में होने वाले चुनाव के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है. कांग्रेस नेता ने बताया कि बाकी सभी जिलों के लिए एक-एक पर्यवेक्षक होंगे. उन्होंने बताया कि एआईसीसी ने कोलकाता के उत्तरी, दक्षिण, मध्य और बड़ा बाजार के लिए चार पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है जबकि उत्तरी 24 परगना और दक्षिण 24 परगना जिलों के लिए दो-दो पर्यवेक्षक बनाए गए हैं.

Youtube Video




ये भी पढ़ें   बंगाल चुनाव: वाम मोर्चा, कांग्रेस के बीच जनवरी के अंत तक होगा सीटों का बंटवारा
भाजपा देश की सबसे बड़ी दुश्मन : बिमान बोस
कांग्रेस ने रविवार को कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों (West Bengal Election 2021) के लिए इस महीने के अंत तक उनके बीच सीट बंटवारे पर समझौते को अंतिम रूप दे दिया जाएगा.  दोनों दलों के वरिष्ठ नेताओं के बीच सीट बंटवारे पर समझौता के लिए आज बैठक हुई. वाम मोर्चा के अध्यक्ष बिमान बोस ने कहा कि हालांकि ‘‘भाजपा देश की सबसे बड़ी दुश्मन है’’ लेकिन पश्चिम बंगाल की स्थिति को देखते हुए लड़ाई तृणमूल कांग्रेस और भाजपा दोनों के खिलाफ है.

ये भी पढ़ेें    West Bengal Elections 2021: 'सस्ता भोजन, गरीब से यारी' के सहारे बंगाल विजय की उम्मीद में ममता

सीट बंटवारे को अंतिम रूप देने बैठक होगी
राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने बैठक के बाद कहा कि उनकी पार्टी और वाम मोर्चा के बीच सीट बंटवारे को अंतिम रूप देने के लिए आगे भी बैठक होगी. लोकसभा में कांग्रेस के नेता चौधरी ने कांग्रेस और वाम मोर्चा के संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘एक तरफ सांप्रदायिक भाजपा और दूसरी तरफ फासीवादी टीएमसी को हराने के लिए हमें लोकतांत्रिक गठबंधन के तौर पर मिलकर लड़ना होगा.’’



कांग्रेस के साथ कंधे से कंधे मिलाकर चुनाव लड़ेगी वाम मोर्चा
उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी और वाम मोर्चा के बीच सौहार्दपूर्ण और दोस्ताना माहौल में बातचीत हो रही है. चौधरी के विचारों से सहमति जताते हुए बोस ने कहा कि जनवरी में दोनों पार्टी द्वारा विधानसभा सीटों पर लड़ी जाने वाली सूची को अंतिम रूप दे दिया जाएगा. बोस ने कहा, ‘‘हम, वाम मोर्चा और कांग्रेस कंधे से कंधा मिलाकर चुनाव लड़ना चाहते हैं ताकि राज्य और देश के लोगों को बचाया जा सके.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज