Home /News /nation /

प्रशांत किशोर को कांग्रेस ने किया 'पराया', नेता बोले- PK का आना पार्टी के लिए आत्‍मघाती

प्रशांत किशोर को कांग्रेस ने किया 'पराया', नेता बोले- PK का आना पार्टी के लिए आत्‍मघाती

कांग्रेस में नहीं शामिल होंगे प्रशांत किशोर. (File pic)

कांग्रेस में नहीं शामिल होंगे प्रशांत किशोर. (File pic)

Prashant Kishor: एक नेता ने प्रशांत किशोर की एंट्री को लेकर कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों की चर्चा में कहा कि प्रशांत किशोर को पार्टी सौंप देना आत्मघाती होगा. प्रशांत किशोर एक प्रोफेशनल संस्था चलाते हैं जो कांग्रेस की सोच और विचारधारा से बंधे हुए नहीं हैं. ऐसे में प्रशांत किशोर जिस तरह से पूरी पार्टी को अपने हिसाब से चलाना चाहते हैं, उनको यह अधिकार देना पार्टी की सेहत के लिए खराब होगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) कांग्रेस (Congress) में शामिल होते-होते रह गए हैं. कांग्रेस नेतृत्व से कई दौर की बातचीत के बाद भी प्रशांत किशोर (Prashant Kishor in Congress) को कांग्रेस में जगह नहीं मिली. कांग्रेस ने उन्हें ना कर दिया है. एक समय ऐसा लग रहा था कि कांग्रेस को बुरे वक्त से निकालने का जिम्मा प्रशांत किशोर को मिल सकता है क्योंकि प्रशांत किशोर कांग्रेस के साथ उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड सहित कई राज्यों में काम कर चुके हैं और चर्चा थी कि वह अब कांग्रेस पार्टी के पुनरुद्धार का काम संभालेंगे.

प्रशांत किशोर की कांग्रेस में एंट्री नहीं हो पाई, इसके पीछे सबसे बड़ी वजह थी पार्टी के ज्यादातर नेताओं का प्रशांत किशोर की मंशा पर सवाल खड़े करना. कई नेताओं ने तर्क दिया कि प्रशांत किशोर बीजेपी सहित ममता बनर्जी जैसे लोगों के लिए काम करते रहे हैं और संभव है कि वो आज भी गुपचुप रूप से उन्हीं की मदद कर रहे हों. ऐसे में पूरी पार्टी उनके हाथ में सौंप देना पार्टी के लिए खतरनाक साबित हो सकता है.

एक नेता ने प्रशांत किशोर की एंट्री को लेकर कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों की चर्चा में कहा कि प्रशांत किशोर को पार्टी सौंप देना आत्मघाती होगा. प्रशांत किशोर एक प्रोफेशनल संस्था चलाते हैं जो कांग्रेस की सोच और विचारधारा से बंधे हुए नहीं हैं. ऐसे में प्रशांत किशोर जिस तरह से पूरी पार्टी को अपने हिसाब से चलाना चाहते हैं, उनको यह अधिकार देना पार्टी की सेहत के लिए खराब होगा.

यह भी पढ़ें: बदरीनाथ समेत उत्‍तराखंड-हिमाचल के कई जिलों में भारी बर्फबारी, देखें खूबसूरत PICS

सूत्र बताते हैं कि कांग्रेस कार्य समिति सहित वरिष्ठ नेताओं से बातचीत में ज्यादातर नेताओं ने कांग्रेस नेतृत्व को प्रशांत किशोर को पार्टी में शामिल न करने की अपील की. चर्चा में शामिल एक नेता ने कहा कि प्रशांत पार्टी पर पूरा नियंत्रण चाहते थे जिस मांग पर कई बड़े नेताओं को ऐतराज़ था. चर्चा में शामिल नेताओं के पीके के अति महत्वाकांक्षी होने की बात कह नेतृत्व को उन्हें शामिल न करने की सलाह ने भी गांधी परिवार को फैसला लेने में मदद की.

सभी नेताओं से बात करने के बाद कांग्रेस नेतृत्व ने पीके को ना कह दिया जिसके बाद भड़के पीके ने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कई ट्वीट किए. कांग्रेस को लगता है कि हाल ही में ममता की कांग्रेस और राहुल गांधी को लेकर आक्रामक रुख के पीछे भी पीके का दिमाग है, जो अब ममता को राष्ट्रीय नेता और टीएमसी को राष्ट्रीय दल बनाकर कांग्रेस का विकल्प बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

हाल के दिनों में ममता ने अचानक न सिर्फ़ कांग्रेस और यूपीए पर हमला करना शुरू कर दिया है, बल्कि राहुल गांधी पर व्यक्तिगत हमला भी करना शुरू कर दिया. जिससे वो बचती रही थीं. यही नहीं, ममता ने अपने दिल्ली दौरे के दौरान सोनिया गांधी से भी मुलाकात नहीं की. फिलहाल पीके की कांग्रेस में आने की कहानी पर विराम लग गया है.

Tags: Congress, Prashant Kishor, Rahul gandhi, Sonia Gandhi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर