होम /न्यूज /राष्ट्र /

गठबंधन के लिए कांग्रेस ने राहुल गांधी को सौंपी जिम्‍मेदारी, लेकिन सपा ने रखी यह शर्त

गठबंधन के लिए कांग्रेस ने राहुल गांधी को सौंपी जिम्‍मेदारी, लेकिन सपा ने रखी यह शर्त

कांग्रेस ने 2019 के आम चुनावों के लिए उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन होने का भरोसा जताया है.  (PTI Photo/Atul Yadav)

कांग्रेस ने 2019 के आम चुनावों के लिए उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन होने का भरोसा जताया है. (PTI Photo/Atul Yadav)

सीडब्‍ल्‍यूसी के ज्‍यादातर सदस्‍यों ने जोर दिया कि कांग्रेस को संयुक्‍त विपक्ष का नेतृत्‍व करना चाहिए क्‍योंकि उसकी सबसे ज्‍यादा राज्‍यों में पहुंच है.

    कांग्रेस ने 2019 के आम चुनावों के लिए उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन होने का भरोसा जताया है. नवगठन के बाद कांग्रेस वर्किंग कमिटी (सीडब्‍ल्‍यूसी) की पहली बैठक के बाद पार्टी के सूत्रों ने बताया कि सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव के कांग्रेस के साथ गठबंधन न करने की खबरें केवल ज्‍यादा सीटें हासिल करने के प्रयास हैं.

    गठबंधन की संभावनाओं के लिए राहुल गांधी ने एक ग्रुप भी बनाया है. हालांकि पूर्व वित्‍त मंत्री पी चिदम्‍बरम ने कहा कि जिन राज्‍यों में कांग्रेस मजबूत है वहां उसे अकेले जाना चाहिए और जरूरत पड़ने पर वहां गठबंधन करना चाहिए.

    सीडब्‍ल्‍यूसी के ज्‍यादातर सदस्‍यों ने जोर दिया कि कांग्रेस को संयुक्‍त विपक्ष का नेतृत्‍व करना चाहिए क्‍योंकि उसकी सबसे ज्‍यादा राज्‍यों में पहुंच है. अंबिका सोनी और मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे सीनियर कांग्रेस नेताओं ने CNN-News18 को बताया कि सीडब्‍ल्‍यूसी ने गठबंधन और 2019 की रणनीति बनाने के लिए राहुल गांधी को जिम्‍मेदारी सौंपी है.

    खड़गे ने बताया, 'सीडब्‍ल्‍यूसी ने गठबंधन के मामलों पर विचार किया. अलग-अलग राज्‍यों में गठबंधन को लेकर एक रणनीति बनाई जाएगी.'

    इस बारे में समाजवादी पार्टी की ओर से कहा गया कि यदि कांग्रेस यूपी में सीट चाहती है तो उसे राजस्‍थान, एमपी और छत्‍तीसगढ़ में सम्‍माजनक रूप से सपा को भी सीट देनी चाहिए. बता दें कि बसपा ने भी इसी तरह की मांग कांग्रेस के सामने रखी है. उत्‍तर प्रदेश में सपा और बसपा साथ चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं. अब कांग्रेस को साथ लेने पर भी विचार किया जा रहा है.

    इससे पहले CWC की मीटिंग में बतौर पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, 'आने वाले चुनावों में कांग्रेस के वोट बेस को बढ़ाना मौजूदा वक्त में हमारा सबसे बड़ा काम है. हर संसदीय क्षेत्र में हमें उन लोगों की पहचान करनी होगी, जो कांग्रेस को वोट नहीं करते. इसके बाद उनतक पहुंचने के लिए हमें आगे की रणनीति बनानी होगी, ताकि ऐसे वोटर्स का भरोसा जीत सके.'

    Tags: Congress, Rahul gandhi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर