लाइव टीवी
Elec-widget

गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटने पर लोकसभा में हंगामा, कांग्रेस बोली- अनहोनी के लिए BJP होगी जिम्मेदार

भाषा
Updated: November 19, 2019, 3:31 PM IST
गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटने पर लोकसभा में हंगामा, कांग्रेस बोली- अनहोनी के लिए BJP होगी जिम्मेदार
कांग्रेस, द्रमुक और राकांपा का सदन से वाकआउट

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chaudhry) ने जब इस विषय को उठाने का प्रयास किया तो लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि कांग्रेस सदस्य पहले ही इस विषय को नियम-प्रक्रिया के तहत उठा चुके हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. संसद के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन भी लोकसभा में शुरू होने वाली बैठक हंगामे के साथ शुरू हुई. कांग्रेस नेता सोनिया, राहुल गांधी से एसपीजी की सुरक्षा वापस लिये जाने के मुद्दे पर कांग्रेस, द्रमुक के सदस्यों ने पूरे प्रश्नकाल में आसन के समीप नारेबाजी की. शून्यकाल में इन दलों ने इस विषय पर सदन से वाकआउट किया.

चौधरी ने गांधी परिवार की जान को बताया खतरा
शून्यकाल में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने जब इस विषय को उठाने का प्रयास किया तो लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि कांग्रेस सदस्य पहले ही इस विषय को नियम-प्रक्रिया के तहत उठा चुके हैं.
चौधरी ने कहा कि गांधी परिवार के सदस्यों की जान खतरे में है. सोनिया गांधी और राहुल गांधी साधारण सुरक्षा प्राप्त करने वाले लोग नहीं हैं और 1991 से एसपीजी की सुरक्षा प्राप्त कर रहे थे. उन्होंने प्रश्न किया कि अचानक से एसपीजी सुरक्षा क्यों हटा ली गई. गांधी परिवार पर अगर किसी तरह का हमला होता है तो इसके लिए बीजेपी जिम्मेदार होगी.

स्पीकर ने नहीं दी आगे बोलने की इजाजत
लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने कहा कि चौधरी इस विषय को पहले ही उठा चुके हैं. स्पीकर ने उन्हें आगे बोलने की इजाजत नहीं दी. संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस सदस्य के इस विषय पर कार्यस्थगन प्रस्ताव के नोटिस को स्पीकर खारिज कर चुके हैं. यह अब शून्यकाल का विषय नहीं है और इसे बिना नोटिस के कांग्रेस सदस्य कैसे उठा सकते हैं.

कांग्रेस ने सदन से किया वाकआउट
Loading...

इस पर कांग्रेस के सभी सदस्य खड़े होकर विरोध दर्ज कराने लगे. चौधरी को इस विषय पर आगे बोलने की अनुमति नहीं दिये जाने पर कांग्रेस और राकांपा के सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया. इसके बाद द्रमुक के टी आर बालू ने भी इस विषय को उठाने का प्रयास किया. लेकिन उन्हें भी बोलने की अनुमति नहीं दी गयी. जिसके बाद द्रमुक सदस्यों ने भी सदन से वाकआउट किया.

सदन में लगाये ये नारे
इससे पहले मंगलवार सुबह सदन की बैठक शुरू होते ही कांग्रेस सदस्यों ने आसन के पास आकर नारेबाजी शुरू कर दी. द्रमुक सदस्य भी गांधी परिवार के सदस्यों की एसपीजी सुरक्षा हटाये जाने के विरोध में आसन के समीप पहुंच कर नारेबाजी करने लगे. कांग्रेस और द्रमुक के सदस्यों ने 'बदले की राजनीति बंद करो', 'एसपीजी के साथ राजनीति करना बंद करो' और 'वी वांट जस्टिस' जैसे नारे लगाए.

गौरतलब है कि हाल ही में सरकार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली थी. अब उन्हें जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है. हंगामे के बीच ही लोकसभा अध्यक्ष ने प्रश्नकाल चलाया और किसानों से संबंधित विषय पर सदस्यों ने कृषि मंत्री से प्रश्न पूछे. बिरला ने नारेबाजी कर रहे सदस्यों से अपने स्थान पर जाने की अपील करते हुए कहा कि किसानों के विषय पर चर्चा हो रही है और ऐसे में सदन में हंगामा अच्छी परंपरा नहीं है.

इस दौरान अध्यक्ष बिरला ने आसन के समीप नारेबाजी कर रहे सदस्यों को चेतावनी देते हुए कहा कि आसन के पास आकर आसन से बातचीत करने की परंपरा पहले रही होगी, लेकिन आगे से सदस्य आसन के पास आकर आसन से चर्चा नहीं करें, अन्यथा उनके विरुद्ध कार्रवाई करनी होगी. हालांकि बाद में भी कांग्रेस के कुछ सदस्यों को आसन की ओर मुखातिब होकर कुछ कहते हुए देखा गया. बाद में शून्यकाल शुरू होने पर ही नारेबाजी कर रहे सदस्य अपने स्थानों पर गये.

ये भी पढ़ें : राज्यसभा में फिर उठा JNU और जम्मू-कश्मीर का मुद्दा, विपक्ष ने किया हंगामा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 3:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...