प्रशांत किशोर की राहुल, प्रियंका और सोनिया गांधी से हुई मुलाकात, 2024 के चुनाव पर हुई बात- रिपोर्ट

राहुल गांधी से मिले प्रशांत किशोर (फाइल फोटो)

Congress Meeting With Prashant Kishor: मंगलवार शाम एक बैठक आयोजित हुई थी, जिसमें प्रशांत किशोर पहुंचे थे. माना जा रहा है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा भी इस मीटिंग में शामिल हुए थे. इस दौरान सोनिया गांधी भी बैठक में वर्चुअली शामिल हुई थीं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishore) इन दिनों गांधी परिवार के संपर्क में हैं. मीडिया रिपोर्ट में यह दावा किया जा रहा है उन्होंने मंगलवार शाम राजधानी दिल्ली में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मुलाकात की है. कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्टी साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव (2024 Loksabha Election) के लिए 'कुछ बड़ी' योजना तैयार कर रही है. हाल ही में किशोर ने महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) के साथ उनके आवास पर बैठक की थी.

    एनडीटीवी की रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया कि, मंगलवार शाम कांग्रेस सासंद के घर एक बैठक आयोजित हुई थी, जिसमें प्रशांत किशोर पहुंचे थे. माना जा रहा है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा भी इस मीटिंग में शामिल हुए थे. खबर है कि इस दौरान सोनिया गांधी भी वर्चुअली बैठक में शामिल हुई थीं. अब कहा जा रहा है कि किशोर 2024 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए अहम भूमिका निभा सकते हैं.

    क्या पंजाब को लेकर हुई बैठक?
    शुरुआत में यह कयास लगाए जा रहे थे प्रशांत किशोर पंजाब कांग्रेस में जारी संकट को लेकर राहुल गांधी से चर्चा करने पहुंचे हैं. हालांकि फिर सूत्रों ने बताया कि यह बैठक पंजाब या उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर नहीं हुई थी, बल्कि इस दौरान 'कुछ बड़ी' योजना पर चर्चा हुई है. साथ ही इससे पहले अटकलें लगाई जा रही थीं कि पंजाब में कांग्रेस में जारी आंतरिक विवाद को लेकर किशोर-गांधी ने यह बैठक की है. पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच तनातनी जारी है.

    कांग्रेस के काम करने के तरीके पर उठाया था सवाल
    हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब किशोर ने गांधी परिवार से मुलाकात की है. इससे पहले वे उत्तर प्रदेश के 2017 के चुनाव में साथ आ चुके हैं. उस दौरान पार्टी को हार का सामना करना पड़ा था. गठबंधन कर चुनाव लड़ रही कांग्रेस-समाजवादी पार्टी को हराकर बीजेपी ने सत्ता हासिल की थी. तब किशोर ने खुलकर कांग्रेस के काम करने के तरीके पर असंतोष जाहिर किया था. अब इस बैठक के बाद इस संभावना को लेकर सियासी गलियारों में चर्चा तेज हो गई है कि किशोर एक बार फिर पार्टी के साथ काम करने के लिए तैयार हो रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: नवजोत सिंह सिद्धू के ट्वीट के बाद राहुल गांधी से मिले प्रशांत किशोर

    तीसरे मोर्चे की भी हो रही तैयारी!
    राकंपा प्रमुख शरद पवार से दो बार मुलाकात ने 2024 लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ तीसरे मोर्चे की खबरों को हवा दी थी. कहा जा रहा है कि पवार के घर पर हुई बैठक में पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा की अगुवाई में एक मोर्चे को लेकर चर्चा हुई थी. हालांकि, इस दौरान कांग्रेस बैठक से गायब रही थी.

    पवार और किशोर दोनोंने कहा था कि कांग्रेस के बगैर बीजेपी के खिलाफ कोई गठबंधन नहीं हो सकता. एनडीटीवी से बातचीत में किशोर ने साफ किया था, 'मैं नहीं मानता कि तीसरा या चौथा मोर्चा मौजूदा सरकार के लिए चुनौती बनकर उभर सकता है.' साथ ही उन्होंने इस विचार को पुराना बताया था. मंगलवार को हुई बैठक में गांधी परिवार की मौजूदगी ने इस बात के संकेत दिए हैं कि तीनों एक साथ काम कर रहे हैं और कोई भी फैसला सर्वसम्मति से लिया जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.