लाइव टीवी

नागरिकता कानून के विरोध पर सोनिया बोलीं-सरकार लोगों की आवाज बर्बरतापूर्वक दबा रही

News18Hindi
Updated: December 20, 2019, 7:28 PM IST
नागरिकता कानून के विरोध पर सोनिया बोलीं-सरकार लोगों की आवाज बर्बरतापूर्वक दबा रही
नागरिकता कानून के खिलाफ पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. सोनिया गांधी ने अपने संबोधन में इसके लिए सरकार को दोषी ठहराया.

कांग्रेस (Congress) की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने देश में नागरिकता कानून (citizenship amendment act) के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. देश के नागरिकों को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि लोकतंत्र में लोगों के पास ये हक होता है कि वह सरकार के गलत निर्णय के खिलाफ आवाज उठा सकें और अपना विरोध दर्ज करा सकें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 20, 2019, 7:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून (citizenship amendment act) के खिलाफ देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. कांग्रेस (Congress) की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने इस कानून और इसके बाद देश में हो रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. देश के नागरिकों को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा, 'लोकतंत्र में लोगों के पास ये हक होता है कि वो सरकार के गलत निर्णय के खिलाफ आवाज उठा सकें और अपना विरोध दर्ज करा सकें. लेकिन बीजेपी सरकार (BJP Government) ने दिखाया है कि वो विरोध की आवाज सुनना नहीं चाहती. वो क्रूरता से लोगों की आवाज दबा रही है.'

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'नागरिकता संशोधन कानून भेदभावपूर्ण है. नोटबंदी (Demonetization) की तरह एक बार फिर एक-एक व्यक्ति को अपनी एवं अपने पूर्वजों की नागरिकता साबित करने के लिए लाइन में खड़ा होना पड़ेगा.' उन्होंने कहा, 'कांग्रेस पार्टी देश में युवाओं, छात्रों और नागरिकों के खिलाफ बीजेपी सरकार की क्रूरता और दमन पर अपनी गहरी पीड़ा और चिंता व्यक्त करती है. सरकार की विभाजनकारी नीतियों के खिलाफ देश में शिक्षा संस्थानों में विरोध प्रदर्शन हुए हैं. लोगों को विरोध जताने का पूरा हक है. सरकार का भी कर्तव्य है कि वो नागरिकों की बात सुने और उनकी चिंता दूर करे, लेकिन बीजेपी सरकार ने लोगों की आवाज को दबाया है. सरकार ने उनकी आवाज को दबाने के लिए बर्बरता से ताकत का इस्तेमाल किया है.'

सोनिया गांधी ने कहा, 'लोकतंत्र में ये कतई स्वीकार नहीं है. कांग्रेस पार्टी सरकार की हरकतों की निंदा करती है. न्याय की लड़ाई में नागरिकों और छात्रों के साथ खड़ी है. नागरिकता कानून भेदभावपूर्ण है. नोटबंदी की तरह हर नागरिक को अपनी नागरिकता साबित करने के लिए लाइन में खड़ा होना पड़ेगा. लोगों की आशंकाएं सही और जायज है. कांग्रेस आपको ये यकीन दिलाती है, हम संविधान के मूल्यों को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं.'

यह भी पढ़ें :-NRC पर गृह मंत्रालय के अधिकारी - 1987 से पहले जन्‍मे लोगों को माना जा सकता है भारतीय नागरिक
सोनोवाल ने कहा, CAA 2019 के जरिये कोई भी बांग्लादेशी असम में नहीं घुस पाएगा
बेंगलुरु में प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए डीसीपी ने गाया राष्ट्रगान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2019, 6:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर