10 अगस्‍त को खत्‍म हो रहा सोनिया गांधी का कार्यकाल, अध्‍यक्ष नहीं चुना तो चुनाव आयोग देगा दखल

सोनिया गांधी का कार्यकाल खत्‍म हो रहा है. राहुल को अध्‍यक्ष बनाने की हो रही है मांग.
सोनिया गांधी का कार्यकाल खत्‍म हो रहा है. राहुल को अध्‍यक्ष बनाने की हो रही है मांग.

कांग्रेस (Congress) को अपने फैसले के संबंध में 10 अगस्‍त तक चुनाव आयोग (ECI) को भी सूचित करना होगा.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कांग्रेस (Congress) की अंतरिम अध्‍यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) का कार्यकाल 10 अगस्‍त को खत्‍म हो रहा है. उनका कार्यकाल एक साल के लिए था. अब अगर कांग्रेस सोनिया गांधी के इस कार्यकाल को आगे बढ़ाना चाहती है तो उसे जल्‍द ही कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक करके फैसला लेना होगा या फिर नया अध्‍यक्ष चुनना होगा. पार्टी को अपने फैसले के संबंध में 10 अगस्‍त तक चुनाव आयोग (ECI) को भी सूचित करना होगा. बता दें कि पिछले साल 10 अगस्‍त को ही सोनिया गांधी को कांग्रेस का अंतरिम अध्‍यक्ष चुना गया था.

हाल ही में कांग्रेस की ओर से चुनाव आयोग को इस पूरे मामले में जानकारी दी गई थी. चुनाव आयोग से कहा गया था कि देश में लागू हुए लॉकडाउन के कारण पार्टी का नया अध्‍यक्ष चुनने के लिए प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है. इस पर चुनाव आयोग का कहना है कि अगर 10 अगस्‍त तक अध्‍यक्ष पर कोई निर्णय नहीं होता है तो आयोग को दखल देना होगा. चुनाव आयोग ने कांग्रेस को नोटिस भेजकर अध्‍यक्ष के चुनाव को लेकर जानकारी मांगी है.

बता दें कि लोकसभा चुनाव में हार के बाद राहुल गांधी ने अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा दे दिया था. इसके बाद सोनिया गांधी को अंतरिम अध्‍यक्ष चुना गया था. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने हाल ही में पार्टी के लोकसभा सदस्यों के साथ डिजिटल बैठक की, जिसमें देश की मौजूदा राजनीतिक परिस्थिति और कोरोना महामारी के हालात पर चर्चा की गई. इस दौरान कई सांसदों ने यह मांग की कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को फिर से पार्टी की कमान संभालनी चाहिए.

सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में के सुरेश, अब्दुल खालिक, गौरव गोगोई और कुछ अन्य सांसदों ने राहुल गांधी से आग्रह किया कि वह फिर से पार्टी की कमान संभालें. इन सांसदों के अलावा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी कहा कि अब राहुल गांधी को फिर से कांग्रेस का नेतृत्व करना चाहिए. हाल ही में हुई कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी यह मांग उठाई थी जिसका कई नेताओं ने समर्थन किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज