कांग्रेस नेता कर्ण सिंह बोले- Article 370 हटाने में कई पॉजिटिव बातें, विरोध से मैं सहमत नहीं

कांग्रेस (Congress) नेता कर्ण सिंह (Karan Singh) ने कहा, ‘निजी तौर पर मैं Article 370 के प्रावधानों को हटाए जाने की पूरी तरह निंदा किए जाने से सहमत नहीं हूं.'

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 7:08 PM IST
कांग्रेस नेता कर्ण सिंह बोले- Article 370 हटाने में कई पॉजिटिव बातें, विरोध से मैं सहमत नहीं
कांग्रेस (Congress) नेता कर्ण सिंह (Karan Singh) ने कहा, ‘निजी तौर पर मैं Article 370 के प्रावधानों को हटाए जाने की पूरी तरह निंदा किए जाने से सहमत नहीं हूं.
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 7:08 PM IST
जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के कई प्रावधानों को खत्म करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों (Union territory) में बांटने के सरकार के कदम पर कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह (Karan Singh) ने गुरुवार को कहा कि इसकी पूर्ण रूप से निंदा करना सही नहीं होगा क्योंकि इसमें कई सकारात्मक बिंदु हैं।

कांग्रेस के आधिकारिक रुख से अलग राय जाहिर करते हुए जम्मू-कश्मीर के पूर्व ‘सद्र-ए-रियासत’ सिंह ने एक बयान में कहा, ‘मुझे यह स्वीकार करना होगा कि संसद में तेजी से लिए गए निर्णयों से हम सभी हैरान रह गए। ऐसा लगता है कि इस बहुत बड़े कदम को जम्मू और लद्दाख सहित पूरे देश में भरपूर समर्थन मिला है. मैंने इस हालात को लेकर बहुत सोच-विचार किया है.’

उन्होंने कहा, ‘निजी तौर पर मैं इस घटनाक्रम की पूरी तरह निंदा किए जाने से सहमत नहीं हूं. इसमें कई सकारात्मक बिंदु हैं. लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाने का निर्णय स्वागत योग्य है। दरअसल, सद्र-ए-रियासत रहते हुए मैंने 1965 में इसका सुझाव दिया था.’

जम्‍मू-कश्‍मीर से Article-370 हटने के बाद Pok से भी उठी भारत में शामिल करने की मांग

राष्ट्रपति ने बुधवार को की घोषणा

गौरतलब है कि संसद ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा संबंधी अनुच्छेद 370 के कई प्रावधानों को समाप्त करने के प्रस्ताव संबंधी संकल्प और जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख में विभाजित करने वाले विधेयक को मंजूरी दे दी है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने की बुधवार को घोषणा की.

बता दें ऐसे कांग्रेसी नेताओं की सूची लंबी होती जा रही है जो मोदी सरकार के इस फैसले का समर्थन कर रहे हैं. ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) से पहले कांग्रेस (Congress) की ओर से हरियाणा के दीपेंद्र हुड्डा (Deependra hudda), महाराष्ट्र के मिलिंद देवड़ा (Milind Deora), वरिष्‍ठ नेता जनार्दन द्विवेदी (janardan Dwivedi) समेत कई नेताओं ने अनुच्छेद-370 (Article-370) हटाने का समर्थन किया है. वहीं, असम से कांग्रेस के राज्यसभा सदस्‍य भुबनेश्वर कलिता ने पार्टी के रुख से नाराज होकर इस्तीफा दे दिया है.
Loading...

इमरान खान की गीदड़ भभकी, अनुच्‍छेद-370 हटाने के फैसले के कारण भारत में होंगी पुलवामा जैसी घटनाएं

भाषा इनपुट के साथ
First published: August 8, 2019, 7:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...