Home /News /nation /

UP Election: कांग्रेस की 'पोस्‍टर गर्ल' प्रियंका मौर्य थाम सकती हैं BJP का दामन, टिकट न‍ मिलने से हैं नाराज

UP Election: कांग्रेस की 'पोस्‍टर गर्ल' प्रियंका मौर्य थाम सकती हैं BJP का दामन, टिकट न‍ मिलने से हैं नाराज

UP Chunav 2022: 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' फेम प्रियंका मौर्या कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हो सकती हैं. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

UP Chunav 2022: 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' फेम प्रियंका मौर्या कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हो सकती हैं. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Uttar Pradesh Assembly Elections 2022: उत्‍तर प्रदेश में नेताओं का पाला बदलने का सिलसिला लगातार जारी है. मंत्री से लेकर विधायक तक लगातार खेमा बदल रहे हैं. इसी क्रम में कांग्रेस की 'पोस्‍टर गर्ल' प्रियंका मौर्य के भी भाजपा में शामिल होने की अटकलें हैं. विधानसभा चुनाव का टिकट मिलने से प्रियंका मौर्य बेहद नाराज हैं. उन्‍होंने पार्टी पर कई गंभीर आरोप भी लगाए हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के करीब आते ही नेताओं का खेमा बदलने का सिलसिला लगातार जारी है. प्रतिदिन किसी न किसी नेता द्वारा पाला बदलने की खबरें सामने आ रही हैं. इसी क्रम में कांग्रेस की ‘पोस्‍टर गर्ल’ को लेकर भी बड़ी सूचना सामने आ रही है. बताया जा रहा है कि कांग्रेस से टिकट न मिलने से नाराज ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ कैंपेन फेम प्रियंका मौर्य भाजपा में शामिल हो सकती हैं. टिकट न मिलने से नाराज प्रियंका मौर्य ने कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा था कि टिकट वितरण की प्रक्रिया में व्‍यापक पैमाने पर धांधली हुई है. बता दें कि प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को ध्‍यान में रखते हुए ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान की शुरुआत की थी. इस कैंपेन के लिए प्रियंका मौर्य कांग्रेस की ‘पोस्‍टर गर्ल’ थीं. हालांकि, उन्‍हें कांग्रेस ने विधानसभा का टिकट नहीं दिया.

उत्तर प्रदेश में महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष प्रियंका मौर्य ने कहा कि उन्होंने (कांग्रेस) मेरे चेहरे, मेरे नाम और मेरे 10 लाख सोशल मीडिया फॉलोअर्स का इस्तेमाल प्रचार के लिए किया, लेकिन जब आने वाले चुनाव के लिए टिकट की बात आई तो यह किसी और को दे दिया गया. यह अन्याय है. उन्होंने कहा कि मुझे टिकट नहीं मिला, क्योंकि मैं एक ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) लड़की हूं और प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह को रिश्वत नहीं दे सकती थी. बता दें कि महिला वोट बैंक को अपने पक्ष में करने के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा ने ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ नाम से कैंपेन की शुरुआत की थी. इसमें प्रियंका मौर्य की अहम भूमिका थी. लेकिन, विधानसभा चुनाव में टिकट न मिलने से वह काफी नाराज थीं.

कांग्रेस को लगातार झटके
विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को लगातार झटके लग रहे हैं. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कुछ दिनों पहले 125 प्रत्‍याशियों की सूची जारी की थी. इसमें उन्‍होंने चमरौआ विधानसभा क्षेत्र से जिस नेता को अपना उम्‍मीदवार बनाया था, उन्‍हीं ने उनका भरोसा तोड़ दिया था. चमरौआ विधानसभा से कांग्रेस की ओर से घोषित उम्‍मीदवार अली यूसुफ अली ने लिस्‍ट जारी होने के एक दिन बाद ही पंजा का साथ छोड़ कर अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार हो गए थे. अली यूसुफ अली लखनऊ में समाजवादी पार्टी ज्‍वाइन कर ली थी. इसे कांग्रेस के लिए बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है.

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर