चिदंबरम के जेल जाने पर अभिषेक मनु सिंघवी बोले- विपक्षी नेताओं को बनाया जा रहा निशाना

भाषा
Updated: September 5, 2019, 10:06 PM IST
चिदंबरम के जेल जाने पर अभिषेक मनु सिंघवी बोले- विपक्षी नेताओं को बनाया जा रहा निशाना
पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने यह भी स्वीकार किया कि चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका उच्चतम न्यायालय से खारिज होना एक झटका है.

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी (Congress Spokesman Abhishek Manu singhvi) ने यह भी स्वीकार किया कि चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका उच्चतम न्यायालय से खारिज होना एक झटका है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 5, 2019, 10:06 PM IST
  • Share this:
आईएनएक्स मीडिया मामले (INX Media Case) में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम (P Chidambaram) को 14 दिनों के लिए तिहाड़ जेल (Tihar Jail) भेजे जाने के बाद कांग्रेस ने आरोप लगाया कि विपक्षी नेताओं को चुनिंदा ढंग से निशाना बनाया जा रहा है. पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी (Congress Spokesman Abhishek Manu singhvi) ने यह भी स्वीकार किया कि चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका उच्चतम न्यायालय से खारिज होना एक झटका है. हालांकि उन्होंने कहा कि अब पूर्व वित्त मंत्री को जमानत मिलने की पूरी संभावना है.

सिंघवी ने संवादाताओं से कहा, 'हम उच्चतम न्यायालय से राहत की उम्मीद कर रहे थे. लेकिन नहीं मिली जो हमारे लिए झटका है.' निचली अदालत के आदेश के संदर्भ में सिंघवी ने कहा, '15 दिन की मियाद पूरी हो गई तो आप इससे ज्यादा पुलिस हिरासत में रख नहीं सकते थे. इसके बाद न्यायिक हिरासत में भेजा जाता है. यह सामान्य है.'

उन्होंने कहा कि अब जमानत की पूरी संभावना है. सिंघवी ने आरोप लगाया, 'हमारा रुख यही है कि चुनिंदा ढंग से कार्रवाई हो रही है, विरोधियों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है. सत्तारूढ पार्टी वाशिंग मशीन की तरह है जिसमें दूसरे लोग जाते हैं और साफ-सुथरे हो जाते हैं.'

आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में दिल्ली की एक अदालत ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया, जहां वह 19 सितंबर तक रहेंगे.

तिहाड़ की जेल नंबर-7 में पहुंचे चिदंबरम
पी चिदंबरम को अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. कोर्ट के आदेश के बाद चिदंबरम को 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में रहना होगा. कोर्ट के फैसले के बाद चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने पूर्व वित्त मंत्री को जेल में अलग सेल में रखने की मांग की थी.

बैरक नं. 7 में रहेंगे पी चिदंबरम
Loading...

चिदंबरम को तिहाड़ जेल की बैरक नंबर 7 में रखा जाएगा. इस जेल तक जाने के लिए उन्हें गेट नंबर 4 से अंदर दाखिल किया गया. आपको बता दें ये वही सेल है जहां इससे पहले उनके बेटे कार्ति चिदंबरम को रखा गया था. तिहाड़ की बैरक नंबर 7 आर्थिक धोखाधड़ी करने वाले आरोपियों के लिए है. चिदंबरम की जेड सुरक्षा का ख्याल रखते हुए अदालत ने उन्हें अलग कोठरी में रखने के निर्देश दिए हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 10:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...