जयराम रमेश के केंद्र को 2 सुझाव, कहा- इन्हें मानें तो देश में नहीं होगी दवा और वैक्सीन की कमी

जयराम रमेश. (फाइल फोटो)

जयराम रमेश. (फाइल फोटो)

पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने केंद्र सरकार को देश में दवा और वैक्सीन की उपलब्धता को बढ़ाने के लिए दो पॉइंट का एजेंडा सुझाया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश (Jairam Ramesh) ने केंद्र सरकार को देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ाई में दवाई और वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर सरकार को दो पॉइंट का एजेंडा सुझाया है. रमेश ने ट्वीट कर लिखा है कि "संयुक्त राज्य अमेरिका कोविड-19 टीकों पर आईपी सुरक्षा की छूट का समर्थन करता है. यहां टीका और दवा की उपलब्धता बढ़ाने के लिए तत्काल 2-बिंदु एजेंडा है. पीयूष गोयल आशा है कि आप इसे अपना गंभीर विचार करेंगे. यह विश्व व्यापार संगठन में हमारे द्वारा लिए गए रुख का तार्किक परिणाम है."

रमेश ने पहले सुझाव में लिखा- केंद्र सरकार को निश्चित तौर पर पटेंट्स एक्ट के सेक्शन 92 और 100 के तहत अधिसूचना जारी करनी चाहिए जिससे कि वैक्सीन और दवाइयों के उत्पादन जिसमें कि वैक्सीन के लिए जरूरी सभी कच्चे माल, अस्पताल के उपकरण और कोविड-19 का इलाज करने वाली दवाओं के लिए आसानी से लाइसेंस देने की प्रक्रिया पूरी की जा सके. रॉयल्टी से जुड़े सभी मामलों पर पेटेंट एक्ट के मुताबिक फैसला किया जाएगा लेकिन इसे सरकार द्वारा दिए जा रहे त्वरित लाइसेंस के आड़े नहीं आना चाहिए.

ये भी पढ़ें- कोरोना से जंग, वैक्सीन, ऑक्सीजन को तुरंत पहुंचाने में यूं मदद कर रहा AAI

उत्पादन बढ़ाने पर जोर
दूसरे एजेंडे के तौर पर जयराम रमेश ने सुझाया कि केंद्र सरकार को ऐसी कंपनियों और संस्थाओं को पूरा समर्थन देना चाहिए जो कि वैक्सीन के उत्पादन को बढ़ा सकें. अगर इंटलेक्चुअल प्रॉपर्टी के रोड़े हटा दिए जाएं तो भारतीय इंडस्ट्री कच्चा माल, दवाओं, वैक्सीन से जुड़े उपकरण, मेडिकल डिवाइस आदि बनाने में पूरी तरह सक्षम है.

गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस के मामले हर दिन एक नया रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं और बृहस्पतिवार को संक्रमण के 4,12,262 नए मामले दर्ज किए गए तथा 3,980 लोगों ने इस महामारी से जान गंवाई. इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामले देश में 2,10,77,410 हो गए और मृतकों की संख्या 2,30,168 पर पहुंच गई.

ये भी पढ़ें- शुतुरमुर्ग की तरह व्यवहार, चिकित्सा ढांचा चरमराया, दिल्ली सरकार पर HC नाराज



केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बृहस्पतिवार को सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 35,66,398 है जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.92 प्रतिशत है. कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर गिरकर 81.99 प्रतिशत हो गई है.


आंकड़ों के मुताबिक, इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,72,80,844 हो गई है जबकि मृत्यु दर 1.09 प्रतिशत है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज