अपना शहर चुनें

States

कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद का BJP और TMC पर वार, कहा- दोनों एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं

कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद का बीजेपी और टीएमसी पर वार
कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद का बीजेपी और टीएमसी पर वार

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की तेजी से बदलती राजनीति को लेकर कांग्रेस (Congress) के पश्चिम बंगाल प्रभारी जितिन प्रसाद (Jitin Prasad) ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में गठबंधन को लेकर कोई पसोपेश नहीं है.

  • Share this:
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections) से कुछ महीने पहले तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कई नेता पार्टी छोड़ रहे हैं तो भाजपा (BJP) ने अभी से पूरी ताकत झोंक दी है. दूसरी तरफ, कांग्रेस (Congress) की तैयारियां फिलहाल अपेक्षाकृत सुस्त नजर आ रही हैं और वाम दलों के साथ उसके गठबंधन को लेकर तस्वीर भी अब तक साफ नहीं है. पश्चिम बंगाल की तेजी से बदलती राजनीति को लेकर कांग्रेस के पश्चिम बंगाल प्रभारी जितिन प्रसाद (Jitin Prasad) ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में गठबंधन को लेकर कोई पसोपेश नहीं है.

प्रसाद ने कहा, जमीन पर वामपंथी दलों के साथ हमारे संयुक्त कार्यक्रम चल रहे हैं. केंद्र एवं प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन चल रहे हैं. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अधिकतर लोगों का विचार है कि हम वाम दलों के साथ गठबंधन करें. प्रदेश इकाई के नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष को फैसले के लिए अधिकृत कर दिया है. बहुत जल्दी फैसला हो जाएगा. भाजपा के खिलाफ कांग्रेस और वामदलों के तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन की बात पर उन्होंने कहा ऐसी चर्चा जो कर रहे हैं वो ही लोग बताएंगे. वाम दलों के साथ हमारा जमीन पर संयुक्त कार्यक्रम चल रहा है और प्रदेश सरकार का विरोध किया जा रहा है. फिर ऐसी बात कहां से आ गई?

कांग्रेस नेता ने कहा, पार्टी तो चुनाव की तैयारियों में जुटी है. पार्टी के सभी संगठन और प्रदेश इकाई पूरी ताकत से लगी हुई है. आने वाले समय में पूरे दमखम के साथ चुनाव प्रचार होगा. परिणाम आश्यचर्यजनक होंगे और हमारा प्रदर्शन बहुत अच्छा होगा. उन्होंने कहा, भाजपा और तृणमूल कांग्रेस एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं. इन्होंने दूसरी पार्टियों को तोड़ने में महारत हासिल कर रखी है. ये सत्ता और धन का दुरुपयोग करके ऐसा करते हैं. तृणमूल ने पहले कांग्रेस के लोगों को तोड़ा और आज भाजपा उन्हें तोड़ रही है. इसमें जनता और बंगाल का कोई भला नहीं होना है.
इसे भी पढ़ें :- मिदनापुर से अमित शाह की हुंकार, बोले- अकेली रह जाएंगी ममता, 200 सीटों के साथ बनाएंगे सरकार



लोकसभा में जीत के बाद बीजेपी ने राज्य को क्या दिया
पश्चिम बंगाल के लोगों ने भाजपा को लोकसभा चुनाव में बड़ा समर्थन दिया था और अब राज्य के लोग जानना चाहते हैं कि केंद्र सरकार से प्रदेश को क्या मिला? मैंने वहां देखा कि भाजपा की मंशा बंगाल के संस्कार एवं संस्कृति तोड़ने और गुजरात मॉडल लागू करने की है. रवींद्र नाथ टैगोर का अपमान किया जा रहा है. इससे जनमानस में ठेस पहुंचती है. बंगाल ने अब तक धर्म और जाति पर वोट नहीं दिया है. बंगाल की पहचान को बदलने का जो प्रयास हो रहा है उसमें वो सफल नहीं होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज