लाइव टीवी

CAA 2019 : कार्ति चिदंबरम का रजनीकांत पर हमला- दिखावा करने की जरूरत नहीं, बीजेपी में शामिल हो जाइए

News18Hindi
Updated: February 5, 2020, 6:14 PM IST
CAA 2019 : कार्ति चिदंबरम का रजनीकांत पर हमला- दिखावा करने की जरूरत नहीं, बीजेपी में शामिल हो जाइए
कांग्रेस नेता कार्ति चिदंबरम ने सीएए 2019 को लेकर रजनीकांत पर तीखा हमला किया है.

तमिल सुपरस्‍टार रजनीकांत (Rajinikanth) ने नागरिकता संशोधन कानून, 2019 (CAA 2019) को लेकर केंद्र सरकार का समर्थन किया है. साथ ही नेशनल पॉपुलेशन रजिस्‍टर (NPR) को भी बेहद जरूरी बताया है. इस पर कांग्रेस (Congress) के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम (P. Chidambaram) के बेटे कार्ति (Karti Chidambaram) ने रजनीकांत पर तीखा हमला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2020, 6:14 PM IST
  • Share this:
चेन्‍नई. कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व वित्‍त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम ने नागरिकता संशोधन कानून, 2019 (CAA 2019) को लेकर मोदी सरकार (Modi Government) का समर्थन करने पर तमिल सुपरस्‍टार रजनीकांत (Rajinikanth) पर सियासी हमला किया है. कार्ति (Karti Chidambaram) ने कहा कि रजनीकांत को दिखावा बंद कर देना चाहिए और बीजेपी (BJP) जॉइन कर लेनी चाहिए. कार्ति ने कहा कि उन्‍हें यह दिखावा करना बंद कर देना चाहिए कि वह अपनी अलग पार्टी शुरू करने जा रहे हैं.

कार्ति ने रजनीकांत को बीजेपी का तोता करार दिया
कार्ति ने रजनीकांत को बीजेपी का तोता (Parroting) करार दिया, जो अपने मालिक की लिखी हुई स्क्रिप्‍ट पढ़ रहा है. साथ ही कहा कि उन्‍हें अब पहेलियां बुझाना बंद कर देना चाहिए. कार्ति से पहले कांग्रेस की तमिलनाडु (Tamil Nadu) इकाई ने भी रजनीकांत की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का समर्थन करने के लिए आलोचना की थी. वहीं, ये पहली बार है कि कांग्रेस (Congress) के किसी बड़े नेता ने रजनीकांत पर सीधा हमला किया है.

रजनीकांत ने सीएए के खिलाफ विरोध पर उठाए सवाल तमिल सुपरस्‍टार रजनीकांत ने नागरिकता संशोधन कानून 2019 को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार का समर्थन किया है. उन्‍होंने कहा कि सीएए 2019 से देश के मुस्लिमों (Muslims) पर कोई खतरा नहीं है. साथ ही कहा, 'कोई समझाएगा कि बंटवारे (Partition) के दौरान भारत में रहने का फैसला करने वाले मुस्लिमों को ये कानून कैसे बाहर करेगा?' उन्‍होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून भारत के किसी भी नागरिक (Indian Citizen) को प्रभावित नहीं करेगा.'

कहा- एनपीआर से बाहरी लोगों की हो जाएगी पहचान
रजनीकांत ने कहा कि अगर नागरिकता कानून 2019 देश के मुस्लिमों को किसी भी तरह से प्रभावित करेगा तो उनके लिए आवाज उठाने वाला मैं पहला व्‍यक्ति होऊंगा. इसके अलावा उन्‍होंने नेशनल पॉपुलेशन रजिस्‍टर (NPR) का भी समर्थन किया. उन्‍होंने कहा कि एनपीआर बहुत जरूरी है. इसके जरिये देश से बाहर के लोगों (Outsiders) की पहचान सुनिश्चित की जाएगी. साथ ही यह भी साफ हो गया है कि नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटिजंस (NRC) को फिलहाल पूरे देश में लागू नहीं किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें:-

रजनीकांत ने किया CAA और NPR को लेकर मोदी सरकार का किया समर्थन

राम मंदिर ट्रस्ट में दलित ही नहीं पिछड़ों को भी मिले जगह- कल्याण सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 3:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर