लाइव टीवी

जामिया में प्रदर्शन के दौरान युवक ने चलाई गोली, कांग्रेस बोली-आज गांधीजी की रूह सिसक रही होगी

News18Hindi
Updated: January 30, 2020, 7:15 PM IST
जामिया में प्रदर्शन के दौरान युवक ने चलाई गोली, कांग्रेस बोली-आज गांधीजी की रूह सिसक रही होगी
मनीष तिवारी ने अर्थव्यस्था के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा.

दिल्ली के जामिया नगर (Jamia Nagar) में एक युवक ने प्रदर्शन के दौरान फायरिंग की. इस दौरान एक युवक घायल हो गया. इस घटना पर कांग्रेस प्रवक्‍ता मनीष तिवारी ने कहा, 'इस घृणा के लिए सरकार जिम्‍मेदार है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2020, 7:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के जामिया नगर (Jamia Nagar) में प्रदर्शन के दौरान एक युवक ने फायरिंग कर दी. इस दौरान गोलीबारी में 1 युवक घायल हो गया. घायल युवक को होली हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. फायरिंग करने वाले आरोपी युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. वहीं गोलीबारी की इस घटना पर कांग्रेस ने दिल्‍ली पुलिस और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है.

कांग्रेस प्रवक्‍ता मनीष तिवारी ने कहा, इस घृणा के लिए सरकार जिम्‍मेदार है. जिस तरह का प्रचार दिल्‍ली चुनाव में चल रहा है, वह वोटों के ध्रुवीकरण के लिए किया जा रहा है. जिस तरह के बयान आ रहे हैं वो सारी सीमाएं पार कर रहे हैं. ऐसे हालात देखकर महात्‍मा गांधी की रूह सिसक रही होगी. गांधी जी का मानना था कि देश का जो गरीब से गरीब व्‍यक्‍ति है, वह खुशहाल हो. लेकिन विडंबना है कि जब बजट पेश किया जाता था, तो जीडीपी के हिसाब से उसे देखा जाता है.

मनीष तिवारी ने कहा, जिस घृणा की सोच ने गांधीजी को मारा उसी सोच के लोग आज भारत की सत्ता के ऊपर काबिज़ है. जामिया आज एक दुखद वाकया हुआ जहां एक शख्स ने गोली चलाई. यह उसी घृणा की देन है जो वातावरण इस मुल्क में बनाया गया है. एक संयोजित तरीके से दिल्ली में ध्रुवीकरण की कोशिश की जा रही है.

कांग्रेस ने इस घटना पर ट्वीट करते हुए लिखा, 'अमित शाह किस तरह पुलिस चला रहे हैं. दिल्ली पुलिस शांतिपूर्वक खड़ी है और एक युवक प्रदर्शनकारियों पर गोली चला रहा है. क्या वित्‍त राज्‍यमंत्री अनुराग ठाकुर जैसे नेताओं का यही इरादा है. कट्टरपंथी युवाओं की एक 'सशस्त्र संगठन' बनाना.'

मनीष तिवारी ने कहा, 'कल बजट सत्र की शुरुआत है. देखिए कैसे देश की अर्थव्यवस्था को इस सरकार ने रौंदा है. आज भारत की अर्थव्यवस्था को GDP से नहीं ग्लोबल मिज़री इंडेक्स से मापना होगा. कई वर्ष पहले अमेरिका के अर्थशास्त्री ने इंडेक्स ईजाद किया कि लोगों की परेशानी को कैसे मापा जाए. उसी का नाम मिज़री इंडेक्स रखा. मिज़री इंडेक्स पर 20 से ऊपर अंक आये तो सत्ता परिवर्तन होता है. 2020 में इस इंडेक्स के आधार पर स्कोर 21.5 है. अब गुस्सा सड़क पर दिखना शुरू हो गया है और सत्ता परिवर्तन का स्वरूप उजागर होना शुरू होता है.'

आप ने भी साधा निशाना
आप के राज्‍यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा, 'जामिया में जो आज घटना हुई है उससे ये स्पष्ट हो गया है कि जबसे गृह मंत्री अमित शाह बने हैं तब से क़ानून व्यवस्था बद से बदतर हो गई है. बीजेपी एक सुनियोजित साज़िश के तहत हार के डर से माहौल बिगाड़ने की कोशिश करती है. पहले नेता ऊटपटांग बात करते हैं, फिर केजरीवाल को आतंकवादी कहते हैं.पुलिस वहां क्या कर रही थी... हाथ बांधे खड़ी थी. बीजेपी हार के डर से दिल्ली का माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रही है. हार के डर से दिल्ली के चुनाव को बीजेपी स्थगित करवाना चाहती है, इसलिए वो ऐसा करवा रही है.' संजय सिंह ने कहा, 'ऐसा नहीं है कि दिल्ली पुलिस कार्रवाई कर नहीं सकती थी, लेकिन दिल्ली पुलिस के हाथ बांधे गए हैं. अमित शाह ने हाथ बांधे हैं. पुलिस के.. वो बड़ी साज़िश रच रहे हैं.'

यह भी पढ़ें :-

खाली बर्थ के लिए ट्रेन में अब नहीं काटने होंगे TTE के चक्कर, रेलवे की नई सेवा


हेट स्पीच पर EC का एक्शन, अनुराग ठाकुर पर 72, परवेश वर्मा पर 96 घंटे का बैन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2020, 4:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर