मोदी सरकार ने कोरोना महामारी और पेट्रोल-डीजल की कीमतें ‘अनलॉक’ कर दीं: राहुल

Petrol Diesel Price: सात जून से पेट्रोलयम कंपनियों ने बुधवार तक लगातार 18 दिन डीजल कीमतों में बढ़ोतरी की है. इसी तरह पेट्रोल के दाम लगातार 17 दिन बढ़ाए गए हैं.
Petrol Diesel Price: सात जून से पेट्रोलयम कंपनियों ने बुधवार तक लगातार 18 दिन डीजल कीमतों में बढ़ोतरी की है. इसी तरह पेट्रोल के दाम लगातार 17 दिन बढ़ाए गए हैं.

Petrol Diesel Price: सात जून से पेट्रोलयम कंपनियों ने बुधवार तक लगातार 18 दिन डीजल कीमतों में बढ़ोतरी की है. इसी तरह पेट्रोल के दाम लगातार 17 दिन बढ़ाए गए हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पेट्रोल और डीजल की कीमत में लगातार बढ़ोतरी को लेकर बुधवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार ने कोरोना महामारी एवं पेट्रोलियम उत्पादों के दाम को ‘अनलॉक’ कर दिया है. उन्होंने कोरोना वायरस के मामले बढ़ने और पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से जुड़ा एक ग्राफ शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘मोदी सरकार ने कोरोना महामारी और पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतें 'अनलॉक' कर दी हैं.’

सरकारी पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य के संबंध में अधिसूचना के अनुसार 17 दिन तक लगातार वृद्धि के बाद बुधवार को पेट्रोल के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं. वहीं, डीजल कीमतों में देशभर में 48 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई है. दिल्ली में अब डीजल का दाम 79.88 रुपये प्रति लीटर हो गया है. वहीं, पेट्रोल की कीमत 79.76 रुपये प्रति लीटर है.

लगातार 18वीं मूल्यवृद्धि के बाद दिल्ली में पहली बार पेट्रोल से महंगा हुआ डीजल
बता दें बुधवार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पहली बार डीजल का दाम पेट्रोल से (Petrol Diesel Price)अधिक हो गया है. बुधवार को कीमतों में लगातार 18वीं बढ़ोतरी के बाद अब डीजल और पेट्रोल का दाम लगभग बराबर हो गया है. सरकारी पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य के संबंध में अधिसूचना के अनुसार 17 दिन लगातार वृद्धि के बाद बुधवार को पेट्रोल के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं. वहीं डीजल कीमतों में देशभर में 48 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई है. दिल्ली में अब डीजल का दाम 79.88 रुपये प्रति लीटर हो गया है. वहीं पेट्रोल की कीमत 79.76 रुपये प्रति लीटर है. मूल्यवर्धित कर (वैट) की वजह से विभिन्न राज्यों में वाहन ईंधन के दाम अलग-अलग होते हैं.





हालांकि, सिर्फ दिल्ली में ही डीजल का दाम पेट्रोल से अधिक है. राज्य सरकार ने पिछले महीने इसपर बिक्रीकर या वैट में बड़ी वृद्धि की थी. मुंबई में पेट्रोल 86.54 रुपये प्रति लीटर है. वहीं डीजल 78.22 रुपये प्रति लीटर है. चेन्नई में पेट्रोल 83.04 रुपये प्रति लीटर और डीजल 77.17 रुपये प्रति लीटर है. कोलकाता में पेट्रोल 81.45 रुपये प्रति लीटर और डीजल 75.06 रुपये प्रति लीटर है. बेंगलुरु में पेट्रोल 82.35 रुपये और डीजल 75.96 रुपये प्रति लीटर है.

लगातार 18 दिन डीजल कीमतों में बढ़ोतरी 
इसी तरह हैदराबाद में पेट्रोल 82.79 रुपये प्रति लीटर और डीजल 78.06 रुपये प्रति लीटर है. सामान्य तौर पर कम कर की वजह से डीजल का दाम पेट्रोल से 18 से 20 रुपये प्रति लीटर कम रहता है. लेकिन हाल के वर्षों में डीजल पर कर बढ़ने की वजह से यह अंतर कम होता जा रहा है. दिल्ली सरकार ने पांच मई को डीजल पर वैट की दर 16.75 से बढ़ाकर 30 प्रतिशत कर दी थी. इसी तरह पेट्रोल पर कर की दर को 27 से बढ़ाकर 30 प्रतिशत किया गया था. चूंकि यह शुल्क मूल्यानुसार लगता है ऐसे में प्रत्येक बार पेट्रोलियम कंपनियों द्वारा कीमतों में वृद्धि से इसका वास्तविक प्रभाव बढ़ता जाता है.

सात जून से पेट्रोलयम विपणन कंपनियों ने बुधवार तक लगातार 18 दिन डीजल कीमतों में बढ़ोतरी की है. इसी तरह पेट्रोल के दाम लगातार 17 दिन बढ़ाए गए हैं. इससे पहले 82 दिन तक कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई थी. 18 दिन में डीजल कीमतों में 10.49 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. वहीं 17 दिन में पेट्रोल 8.5 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ है. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज