अपना शहर चुनें

States

Kisan Andolan: प्रियंका की हिरासत पर राहुल गांधी ने कहा- लोकतंत्र अब सिर्फ कल्पना में है

Kisan Andolan को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात पर राहुल गांधी ने कहा, मैंने राष्ट्रपति से कहा कि ये कृषि कानून किसान विरोधी हैं. देश ने देखा कि किसान इन कानूनों के खिलाफ हैं.
Kisan Andolan को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात पर राहुल गांधी ने कहा, मैंने राष्ट्रपति से कहा कि ये कृषि कानून किसान विरोधी हैं. देश ने देखा कि किसान इन कानूनों के खिलाफ हैं.

Kisan Andolan को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात पर राहुल गांधी ने कहा, 'मैंने राष्ट्रपति से कहा कि ये कृषि कानून किसान विरोधी हैं. देश ने देखा कि किसान इन कानूनों के खिलाफ हैं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 24, 2020, 3:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. किसान आंदोलन (Kisan Andolan) को लेकर राजनीति अपने चरम पर है. गुरुवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक ओर जहां 2 करोड़ लोगों के हस्ताक्षर समेत ज्ञापन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) को सौंपा तो वहीं प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. राष्ट्रपति से मिलने के बाद राहुल ने पत्रकारों से कहा कि भारत में लोकतंत्र नहीं बचा है. पार्टी नेताओं के हिरासत में लिए जाने पर उन्होंने कहा कि लोकतंत्र सपनों में भले हो लेकिन वास्तविक धरातल पर यह बिल्कुल नहीं है.

कृषि कानूनों को लेकर वायनाड सांसद ने कहा कि क्रोनी कैपिटलिस्ट्स के लिए पीएम मोदी पैसा बना रहे हैं. जो भी उनके खिलाफ खड़ा होने की कोशिश करेगा, वह आतंकी कहलाएगा. वह चाहे किसान हो, मजदूर हो या मोहन भागवत.





कांग्रेस नेता ने कहा कि मैं पीएम को बताना चाहता हूं कि ये किसान तब तक घर वापस नहीं जाने वाले हैं, जब तक इन कृषि कानूनों को रद्द नहीं किया जाता. सरकार को संसद का संयुक्त सत्र बुलाना चाहिए और इन कानूनों को वापस लेना चाहिए. किसान और मजदूरों के साथ विपक्षी दल खड़े हैं.
आपके पास एक अक्षम व्यक्ति- राहुल
राष्ट्रपति से मुलाकात पर राहुल ने कहा 'मैंने राष्ट्रपति से कहा कि ये कृषि कानून किसान विरोधी हैं. देश ने देखा कि किसान इन कानूनों के खिलाफ हैं.' राहुल ने पूछा, 'चीन अभी भी सीमा पर है. चीन ने भारत की हजारों किलोमीटर जमीन छीन ली है. पीएम इसके बारे में क्यों नहीं बोलते, वह चुप क्यों हैं?'

राहुल ने कहा कि आपके पास एक अक्षम व्यक्ति है जो कुछ भी नहीं समझता है और 3 या 4 अन्य लोगों की ओर से एक सिस्टम चला रहा है जो सब कुछ समझते हैं.

इससे पहले कांग्रेस ने विजय चौक से राष्ट्रपति भवन तक मार्च  निकाला जिसे पुलिस ने रोक दिया. इसके साथ ही प्रियंका गांधी को भी हिरासत में ले लिया. इस पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि इस सरकार के खिलाफ किसी भी तरह के असंतोष को आतंकवादी तत्व बता दिया जाता है. हम किसानों के समर्थन में आवाज बुलंद करने के लिए यह मार्च कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज